पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Shibu Soren And Hemant Soren Did The Work Of Cheating The Tribals By Taking Votes: Salkhan Murmu

सरना धर्म कोड की मांग:शिबू सोरेन और हेमंत सोरेन ने आदिवासियों का वोट लेकर उन्हें धोखा देने का काम किया: सालखन मुर्मू

रांची9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष और जदयू प्रदेश अध्यक्ष सालखन मुर्मू ने कहा कि सरना धर्म की मान्यता आदिवासी अस्तित्व, पहचान और हिस्सेदारी के लिए अनिवार्य है।
  • सालखन मुर्मू ने कहा- सरना धर्म कोड को लेकर अब होगा करो या मरो के तर्ज पर आंदोलन
  • नवंबर एवं दिसंबर में कई कार्यक्रमों की घोषणा, 20 के आंदोलन का किया समर्थन

आदिवासी सेंगेल अभियान सरना धर्म कोड को लेकर अब करो या मरो के तर्ज पर आंदोलन करेगा। इसको लेकर संगठन ने नवंबर और दिसंबर में कई कार्यक्रमों की घोषणा की है। संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष और जदयू प्रदेश अध्यक्ष सालखन मुर्मू ने यह जानकारी रविवार को आयोजित एक प्रेसवार्ता में दी। उन्होंने कहा कि झामुमो व इसके अगुआ शिबू सोरेन और हेमंत सोरेन ने आदिवासियों का सर्वाधिक वोट लेकर उन्हें सर्वाधिक धोखा दिया है। झामुमो के आदिवासी विरोधी रवैये का पर्दाफाश करना अब अनिवार्य हो गया है।

सालखन मुर्मू ने कहा कि भारत के लगभग 15 करोड़ आदिवासियों को अनुच्छेद 342 के तहत आदिवासी (एसटी) का दर्जा प्राप्त है। मगर उनको अनुच्छेद 25 (मौलिक अधिकार) के तहत अब तक उनकी विशिष्ट प्रकृति पूजक धर्म-सरना धर्म की मान्यता प्रदान नहीं करना, उनके संवैधानिक और मानवीय अधिकारों का हनन है। सरना धर्म की मान्यता आदिवासी अस्तित्व, पहचान और हिस्सेदारी के लिए अनिवार्य है। उन्होंने कहा कि इसके लिए देश की बड़ी पार्टियां और केंद्र एवं राज्य सरकारें अब तक दोषी हैं। अब भारत के आदिवासियों को उनकी धार्मिक मान्यता देकर 2021 की जनगणना में शामिल होने का मौका प्रदान करें। क्योंकि अधिकांश आदिवासी प्रकृति पूजक हैं, मूर्तिपूजक नहीं है तथा वे हिंदू ,मुसलमान, ईसाई आदि से भिन्न हैं।

ये कार्यक्रम हुए घोषित

  • भारत के राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, गृह मंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के साथ झारखंड, ओड़िसा, बंगाल, असम और बिहार के सीएम को पत्र लिखेगा।
  • झारखंड, बंगाल, बिहार, ओडिशा और असम के आदिवासी बहुल जिलों में 5 नवंबर और 20 नवंबर को जन जागरण रैली, पुतला दहन करेगा।
  • 6 दिसंबर को रेल-रोड चक्का जाम के लिए बाध्य होगा।
  • 20 अक्टूबर 2020 को आहूत आदिवासियों के धर्म कोड आंदोलन कार्यक्रम का समर्थन करती है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज किसी समाज सेवी संस्था अथवा किसी प्रिय मित्र की सहायता में समय व्यतीत होगा। धार्मिक तथा आध्यात्मिक कामों में भी आपकी रुचि रहेगी। युवा वर्ग अपनी मेहनत के अनुरूप शुभ परिणाम हासिल करेंगे। तथा ...

और पढ़ें