पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

झारखंड की घटना:देवघर में सेफ्टिक टैंक में दम घुटने से 6 लोगों की मौत; बेहोशी की हालत में अस्पताल लाए गए थे

देवघरएक महीने पहले
सेफ्टिक टैंक से निकाल सभी को देवघर सदर अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डॉक्टरों ने जांच के बाद सभी को मृत घोषित कर दिया।
  • देवघर के देवीपुर थाना क्षेत्र का मामला, सूचना मिलने पर सदर अस्पताल पहुंचे उपायुक्त

जिले के देवीपुर थाना क्षेत्र में सेफ्टिक टैंक में सफाई करने उतरे छह लोगों की दम घुटने से मौत हो गई। मृतकों में दो परिवार के पांच लोग शामिल हैं। घटना की जानकारी के बाद उपायुक्त कमलेश्वर प्रसाद सिंह सदर अस्पताल पहुंचे और मामले की जानकारी ली। उधर, पुलिस भी घटना की सूचना के बाद अस्पताल पहुंची और परिजनों से जानकारी लेने के बाद जांच पड़ताल में जुट गई।

मृतकों में ब्रजेश चंद्र वर्णवाल, मिथिलेश चंद्र वर्णवाल (दोनों भाई), ठेकेदार गोविंद मांझी, बबलू और लालू मांझी (दोनों गोविंद मांझी के बेटे) और मजदूर लिलू मुर्मू शामिल हैं। ब्रजेश चंद वर्णवाल का मकान बन रहा है। सेफ्टिक टैंक की ढलाई को खोलने के लिए एक मजदूर को बुलाया गया। फिर ब्रजेश चंद वर्णवाल अपने भाई मिथिलेश चंद्र वर्णवाल, ठेकेदार गोविंद मांझी और उनके दो बेटे बबलू मांझी और लालू मांझी के अलावा मजदूर लिलू मुर्मू के साथ ढलाई खोलने सेफ्टिक टैंक में उतरे।

अस्पताल के बाहर जुटी लोगों की भीड़।
अस्पताल के बाहर जुटी लोगों की भीड़।

सभी लोग एक-एक कर अंदर पहुंचे लेकिन थोड़ी देर तक अंदर से आवाज न आने पर बाहर मौजूद परिवार के अन्य लोगों को शंका हुई फिर एक-एक कर सभी छह लोगों को बेहोशी की हालत में बाहर निकाला गया। फिर स्थानीय लोगों की मदद से सभी को देवघर सदर अस्पताल पहुंचाया गया जहां डॉक्टरों ने जांच पड़ताल के बाद सभी छह लोगों को मृत घोषित कर दिया। फिलहाल, पुलिस आगे की कार्रवाई में जुटी हुई है।

21 जुलाई को गढ़वा में तीन लोगों की हुई थी मौत
19 दिन पहले यानी 21 जुलाई को गढ़वा के अशोक विहार इलाके में एक निर्माणाधीन मकान के सेप्टिक टैंक में काम करने उतरे पिता-पुत्र समेत तीन लोगों की मौत हो गई थी, जबकि एक युवक की हालत गंभीर हो गई थी जिसे इलाज के सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय पूर्णतः आपके पक्ष में है। वर्तमान में की गई मेहनत का पूरा फल मिलेगा। साथ ही आप अपने अंदर अद्भुत आत्मविश्वास और आत्म बल महसूस करेंगे। शांति की चाह में किसी धार्मिक स्थल में भी समय व्यतीत ह...

और पढ़ें