लातेहार में एक ही परिवार के तीन सदस्यों की मौत:खेत जा रहे माता-पिता और बेटा हाईटेंशन तार की चपेट में आए, तीनों ने घटनास्थल पर ही तोड़ा दम

मनिका (लातेहार)3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मृतकों में गंगेश्वर सिंह, धनोया देवी और उनका बेटा बबलू सिंह शामिल है। - Dainik Bhaskar
मृतकों में गंगेश्वर सिंह, धनोया देवी और उनका बेटा बबलू सिंह शामिल है।

मनिका ब्लॉक के मटलोंग पंचायत के निरेद टोला में गुरुवार की अहले सुबह एक ही परिवार के तीन सदस्यों की करंट लगने से मौत हो गई। माता-पिता और बेटा तीनों ही खेत में काम करने जा रहे थे और इसी दौरान टूट कर जमीन पर गिरे हाईटेंशन तार की चपेट में आ गए। तीनों की मौके पर ही मौत हो गई। घटना की सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवा दिया है।

मृतकों में गंगेश्वर सिंह (60), धनोया देवी (58) और उनका बेटा बबलू सिंह (22) शामिल है। तीनों सदस्य खेत में धान रोपने के लिए सिंचाई के लिए गए हुए थे। इसी दौरान करंट की चपेट में आ गए।

सबसे पहले गंगेश्वर सिंह को करंट का झटका लगा। उसे बचाने पहुंचे बबलू को भी करंट का जोरदार झटका लगा। इसी बीच धनोया पति और बेटे को बचाने गई और वो भी करंट की चपेट में आ गई। 5 भाई-बहनों में बबलू सबसे छोटा था। उसकी शादी दो साल पहले ही हुई थी। बबलू का एक 1 साल का बेटा भी है।

रोते-बिलखते परिजन।
रोते-बिलखते परिजन।

इधर, हादसे की सूचना मिलने के बाद बीडीओ वीरेंद्र किड़ो और मनिका थानेदार शुभम कुमार ने घटनास्थल पर पहुंचकर मामले की जानकारी ली। प्रखंड प्रशासन की ओर से दाह संस्कार के लिए पीड़ित परिजनों को 10 हजार रुपए नगद औ दो क्विंटल चावल दिया गया। वहीं, कांग्रेस नेता कामेश्वर प्रसाद यादव ने पीड़ित परिजनों को 5 हजार रुपए की सहायता प्रदान की। इस घटना के बाद से ग्रामीणों में बिजली विभाग के प्रति काफी रोष व्याप्त है।

रिपोर्ट: नीतीश भारती।

खबरें और भी हैं...