केंद्रीय राज्य मंत्री ने BDO को सर्किट हाउस में बुलाया:गढ़वा के भाजपा कार्यकर्ताओं के सामने कहा; राज्य में JMM की सरकार, इसका मतलब यह नहीं कि वह जो बोलेंगे, वही होगा

गढ़वाएक महीने पहले
बीडीओ से सवाल करते केंद्रीय राज्य मंत्री। - Dainik Bhaskar
बीडीओ से सवाल करते केंद्रीय राज्य मंत्री।

भारत सरकार के जल शक्ति एवं जनजातीय कार्य राज्यमंत्री विश्वेश्वर टुडु सोमवार को अपने एक दिवसीय दौरे पर गढ़वा पहुंचे। इस दौरान उन्होंने सर्किट हाउस में भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की। बैठक के दौरान का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसमें केंद्रीय राज्य मंत्री पार्टी कार्यकर्ताओं के सामने एक BDO की क्लास ले रहे हैं। BDO का नाम कुमुद झा बताया जा रहा है।

गढ़वा में पार्टी कार्यकर्ताओं की बैठक के बीच अधिकारी से सवाल पूछते केंद्रीय राज्य मंत्री विश्वेश्वर टुडु।
गढ़वा में पार्टी कार्यकर्ताओं की बैठक के बीच अधिकारी से सवाल पूछते केंद्रीय राज्य मंत्री विश्वेश्वर टुडु।

वायरल वीडियो में मंत्री यह कहते हुए सुनवाई दे रहे हैं कि "राज्य में JMM की सरकार है। इसका मतलब यह नहीं कि वह जो बोलेंगे, वहीं होगा। मंत्री का कहना है कि इस जिले पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नजर है। एक-एक अधिकारी के कामकाज की मॉर्निटरिंग हो रही है। आप सरकारी अधिकारी हैं। किसी पार्टी के लिए नहीं बल्कि जनता के हित में कार्य करिए।" उन्होंने सवालिया लहजे में पार्टी के कार्यकर्ताओं की ओर इशारा करते हुए अधिकारी से पूछ रहे हैं कि "आप इन्हें जानते हैं? आप भाजपा कार्यकर्ता से मिलते हैं ? बातचीत करते हैं ? अधिकारी मंत्री के सवाल का बीच-बीच में जवाब देते हुए सुनाई दे रहे है।

गढ़वा पहुंचे केंद्रीय राज्य मंत्री का हुआ भव्य स्वागत।
गढ़वा पहुंचे केंद्रीय राज्य मंत्री का हुआ भव्य स्वागत।

अपने संबोधन के दौरान मंत्री यह भी कहते हैं कि उन्हें यह नहीं कहना चाहिए लेकिन कह रहे हैं। वह BDO की अब तक की सर्विस के बारे में भी पूछ रहे हैं। इसके बाद मंत्री कहते हैं कि पब्लिक मनी। आपको पब्लिक के पैसा से सैलेरी और सभी प्रकार की सरकारी सुविधा मुहैया मिलती हैं। इस लिए आप को जनता के हित में काम करना चाहिए। दरअसल पार्टी के स्थानीय कार्यकर्ताओं ने जिले के अधिकारियों के कार्यप्रणाली की शिकायत मंत्री से की। कहा कि BDO तक उनकी बात नहीं सुनते। इसके बाद केंद्रीय मंत्री ने BDO को तलब किया। उन्हें कामकाज का तरीका समझाया। हिदायत दी कि भविष्य में कोई शिकायत नहीं आनी चाहिए। पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक के बाद मंत्री ने विभागीय अधिकारियों के साथ समहरणालय में बैठक की।

खबरें और भी हैं...