पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बम विस्फोट में महिला जख्मी:जंगली सुअर को मारने के लिए जंगल में रखा था देसी बम, महिला के ठोकर मारने से हुआ ब्लास्ट

​​​​​​​पांकी (पलामू)3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
घटना पांकी थाना क्षेत्र के केकरगढ़ पंचायत के मतनाग गांव में हुई। - Dainik Bhaskar
घटना पांकी थाना क्षेत्र के केकरगढ़ पंचायत के मतनाग गांव में हुई।

पांकी थाना से करीब 25 KM दूर केकरगढ़ पंचायत के मतनाग गांव में बम फटने से एक महिला जख्मी हो गई। घटना शनिवार की है। दरअसल, जंगली सुअर को मारने के लिए जंगल में प्लास्टिक बांधकर बम रखा गया था। महिला ने उसे पैरों से ठोकरा मारा और विस्फोट हो गया। इस हादसे में महिला गंभीर रूप से जख्मी हो गई। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

महेंद्र यादव की पत्नी बसंती देवी सुबह में अपने घर के पास जंगल में गई थी। इसी दौरान प्लास्टिक में रखे बम को उसने पैर से ठोकर मार दिया। ठोकर मारते ही बम फट गया। उसकी साड़ी में आग लग गई। आनन-फानन में महिला ने साड़ी को खोलकर फेंका तब उसकी जान बची। हालांकि, बम का छींटा उसके शरीर पर कई जगहों पर पड़ा, जिससे वो गंभीर रूप से जख्मी हो गई। यह हादसा और भी बड़ा हो सकता था। यदि महिला बम पर चढ़ जाती तो उसके पैर उड़ सकते थे। जख्मी महिला का इलाज निजी क्लीनिक में चल रहा है।

खाने के सामान के साथ रख देते हैं बम
बताया जाता है कि मतनाग के इलाके में ग्रामीण जंगली सुअर का शिकार करते हैं। सुअर को मारने के लिए देसी बम बनाया जाता है, जिसे खाने के सामान के साथ जंगल में रख दिया जाता है। सुअर जब खाने आता है तो वह बम भी खा जाता है। इस दौरान विस्फोट से उसकी मौत हो जाती है।

खबरें और भी हैं...