माइंस संचालन के विवाद में महिला को मारी गोली:माइंस संचालक सीताराम तिवारी बेटे सहित 40 लोगों को लेकर पहुंचा था धमकाने; पति को मारी थी गोली, पर पत्नी हो गई जख्मी

मेदिनीनगर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मेदिनीनगर में घटनास्थल से जब्त बाइक। - Dainik Bhaskar
मेदिनीनगर में घटनास्थल से जब्त बाइक।

मेदिनीनगर में माइंस संचालन में पैसे के विवाद को लेकर संतोष साव की पत्नी अजंती देवी को गोली मार दी गई। गोली महिला की जांघ में लगी है। उसका इलाज एमएमसीएच में चल रहा है। घटना सदर थानाक्षेत्र के पिपराडीह की है। माइंस संचालक रेड़मा निवासी सीताराम तिवारी का पैसे को लेकर कुछ दिनों से जख्मी महिला के परिवार से विवाद चल रहा था।

इसी बीच बुधवार को सीताराम अपने बेटे समेत 20 बाइक पर 40 लोगों के साथ उसके घर पहुंचा था। सभी हथियार लेकर महिला के पति मनोज को खोज रहे थे। इसी बीच मनोज को देख उन्होंने गोली चला दी। जिसमें मनोज तो बच गया पर गोली उसकी पत्नी को लग गई।

गोली की आवाज सुनकर ग्रामीण एकजुट हो गए। जिसके बाद अपराधी जैसे तैसे गांव से भाग गए। इस दौरान उनकी 5 बाइक वहीं छूट गई। सभी बाइक को पुलिस ने जब्त कर लिया। साथ ही माइनिंग कार्य में लगे एक पोकेलन और मोटर पंप को भी जब्त कर थाना ले गए।

थाना प्रभारी कमलेश कुमार ने बताया कि माइंस की जमीन जख्मी महिला के ससुर ने सीताराम तिवारी को एग्रीमेंट पर दिया था। इसी में 1 लाख 20 हजार रुपए बकाया थे। पैसे को लेकर जब पत्थर तोड़ने और उठाने पर रोक लगाया गया तो माइंस संचालक ने अपने बेटों के साथ मिलकर दबंगता दिखाई। इधर, पुलिस बाकी अपराधियों की पहचान में जुटी है। वहीं, अस्पताल में इलाजरत महिला ने आरोप लगाया कि सदर थाना के एक एएसआई ने माइंस संचालक को संरक्षण दिया है।

खबरें और भी हैं...