शादी से 48 घंटे पहले दूल्हे ने की खुदकुशी:सुसाइड नोट में लिखा- दिव्यांग हूं, कोई प्यार नहीं करता; उब चुका हूं

कटकमसांडी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

'मैं दिव्यांग हूं। मुझे कोई प्यार नहीं करता। मैं जिंदगी से उब चुका हूं....' ये एक युवक के आखिरी शब्द थे, जो उसने अपनी सुसाइड नोट में लिखे। हजारीबाग जिले के कटकमसांडी थाना क्षेत्र के कटकमसांडी पार नदी टोला में एक युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। अपनी शादी से महज 48 घंटे पहले उसने अपनी जान दे दी।

युवक की पहचान उत्तम कुमार (30 वर्ष ) के रूप में की गई है। घटना शुक्रवार की देर रात की है। परिजनों को शनिवार की सुबह घटना की जानकारी मिली। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

सुसाइड नोट में लिखा- मुझे कोई प्यार नहीं करता

पुलिस जांच में पता चला है कि फांसी लगाने से पहले युवक ने अपने मोबाइल पर सुसाइड नोट भी लिखा है। नोट में उसने यह लिखा है कि मैं दिव्यांग हूं। मुझे कोई प्यार नहीं करता। मैं जिंदगी से उब चुका हूं। मुझसे लोग सिर्फ काम का रिश्ता रखते हैं। काम लेने के बाद मुझे कोई इज्जत नहीं देता। अगले जन्म में मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि जब मुझे मनुष्य तन में जन्म मिले तो बिल्कुल स्वस्थ रूप में दें। पुलिस ने मोबाइल फोन जब्त कर लिया है।

युवक की शादी का कार्ड।
युवक की शादी का कार्ड।

देर रात तक देखता रहा मोबाइल

उत्तम कुमार ने शुक्रवार रात खाना खाया फिर अपने कमरे में चला गया। देर रात 12:00 बजे तक मोबाइल देख रहा था। इसके बाद घर के लोग आराम करने अपने-अपने कमरे में चले गए। देर रात उसने फांसी लगा ली। परिजनों को शनिवार की सुबह घटना की जानकारी मिली।

सुबह युवक की मां उषा देवी लगभग 6:30 बजे उठकर कुएं में पानी लाने के लिए गई। कुएं की बाल्टी में रस्सी नहीं थी। वह कमरे में रस्सी लाने गई। इस दौरान बेटे का शव रस्सी से लटकते हुए देखा। इसके बाद परिजन युवक को अस्पताल ले गए। चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। घटना की जानकारी मिलने पर थाना प्रभारी अरुण कुमार रवानी ने टीम को मौके पर भेजा। शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया।

शादी से 48 घंटे पहले युवक ने फांसी लगाकर दे दी जान।
शादी से 48 घंटे पहले युवक ने फांसी लगाकर दे दी जान।

9 मई को होनी थी शादी, बंट चुके थे शादी कार्ड
शादी से दो दिन पहले युवक के सुसाईड करने से सभी स्तब्ध हैं। उत्तम कुमार की शादी चतरा जिले के मयूरहंड गांव तय हुई थी। आगामी 9 मई को भद्रकाली मंदिर इटखोरी में शादी होने वाली थी। शादी को लेकर कार्ड भी बंट चुके थे। इसी बीच यह घटना हो गई। उत्तम कुमार कटकमसांडी प्रखंड में निजी कंप्यूटर ऑपरेटर के रूप में काम करता था।

15 हजार के लिए शादी से 9 दिन पहले हत्या:भोजपुर में खुद की शादी का कार्ड बांटने निकला था; पीट-पीटकर मार डाला