पलामू में 320 किलो गांजा बरामद:ट्रक को तस्करी के लिए किया गया था तैयार, गुप्त बॉक्स में छिपाकर रखा था 32 लाख का गांजा

पलामू4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पलामू में गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने एक ट्रक से 320 किलो गांजा बरामद किया है। यह गांजा उड़ीसा से बिहार जा रहा था। पलामू के सतबरवा थाना पुलिस को सूचना मिली की ट्रक में छिपाकर गांजे की तस्करी की जा रही है।ट्रक में गुप्त बाक्स बनाये गये थे। इन पैकेट्स में गांजा भरकर रखा गया था। पुलिस को इन बॉक्स से गांजा निकालने के लिए काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। एक किलो गांजा की कीमत लगभग 10 हजार रूपये है इस आधार पर इसकी कीमत लगभग 30 से 32 लाख रुपए आंकी जा रही है। पुलिस ने ट्रक के चालक और खलासी को गिरफ्तार किया है। दोनों से पूछताछ के बाद पुलिस ने उन्हें मेदिनीनगर केंद्रीय कारा भेज दिया है।

एसपी चंदन कुमार सिन्हा ने बताया कि 28 सितंबर की रात गुप्त सूचना मिली कि लातेहार की तरफ से एक सफेद रंग की 709 ट्रक ( जेएचओ 1एयू 1774) पर भारी मात्रा में गांजा लोड है। सूचना पर टीम बनाई गई एवं राष्ट्रीय राजमार्ग 39 पर थाना गेट के सामने चेकिंग लगाया गया। चेकिंग के दौरान उक्त सफेद रंग के ट्रक को पकड़ा गया। ट्रक पर चालक और खलासी मौजूद थे। चेकिंग में पाया गया कि ट्रक के पूरे डाला में गुप्त बॉक्स बनाया गया है, जिसमें चार बड़े कंटेनर में 320 पैकेट गांजा आराम से रखा गया था। इसका वजन करीब 3 क्विंटल 20 किलो के आसपास पाया गया। चालक और खलासी से पूछताछ के बाद पता चला कि गांजा उड़ीसा से बिहार ले जाया जा रहा था। गांजा की तस्करी में बड़ा गिरोह शामिल है। इसका मुख्य सरगना ओडिशा के संबलपुर इलाके के चारमाला निवासी बैकुंठ साहू बताया गया है है। वह गिरोह के सदस्य चालक एवं स्थानीय तस्कर को अलग-अलग काम देता है तथा एक दूसरे के संपर्क से अलग रहता है। चालक एवं खलासी को प्रत्येक 200 किलोमीटर पर रास्ते में बदल दिए जाते हैं जिससे माल विक्रेता एवं क्रेता का पता एक साथ किसी के पास नहीं होता।

खबरें और भी हैं...