हत्या की घटना:गर्भवती नवविवाहिता की हत्या, 6 पर केस आरोप-दहेज की मांग कर रहे थे ससुराल वाले

विश्रामपुर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

सात माह पहले सात फेरे लेकर सात वचन को निभाने वाले पति ने अपने परिजनों के साथ मिलकर अपनी गर्भवती पत्नी शोभा देवी (19वर्ष) की शुक्रवार की रात गला घोंटकर हत्या कर दी। इसके बाद शव को फांसी के फंदे पर झुला कर आत्महत्या का रूप देने का असफल प्रयास किया। यह घटना तब हुई, जब घटना के दिन ही मृतका के पिता ने दहेज की डिमांड पूरी कर दी व चतरा बुलाकर विवाहिता के ससुर के सामने ही बाइक खरीद दी। चतरा के अंटा ग्राम निवासी बबलू कुमार दास ने अपनी इकलौती पुत्री शोभा कुमारी की शादी विगत 18 फरवरी 22 को बड़े धूमधाम से सामर्थ्य के मुताबिक दान दहेज देकर नगर पंचायत क्षेत्र के सोरडीहा निवासी उमेश दास के पुत्र राजेश दास से हिंदू रीति रिवाज से की थी।

पिता का आरोप-शादी के बाद से ही ससुराल वाले बेटी को दहेज के लिए करते थे प्रताड़ित

शादी के बाद से ही ससुराल वालों द्वारा शोभा को दहेज के लिए प्रताड़ित किया जाने लगा। शोभा ने सारी बात अपने मायके में बताई। घटना की सूचना मिलते ही मृतका के पिता बबलू कुमार दास परिजनों के साथ पहुंचे। पुलिस को दिए आवेदन में बताया कि शुक्रवार दिन में ही नई बाइक चतरा शोरूम से खरीदकर बेटी के ससुरालवालों को उनके दहेज की मांग पूरी करने की जानकारी दे दी थी। मृतका शोभा के पिता ने प्राथमिकी में उसके पति , सास,ससुर , देवर और जेठ सहित छह पर अपनी बेटी शोभा की हत्या कर आत्महत्या दिखाने के लिए साड़ी का फंदा बनाकर घर के सीलिंग से लटकाने की साजिश रचने का आरोप लगाया है।

थाना प्रभारी ने कांड दर्ज कर अनुसंधान की जिम्मेवारी थाना के सब इंस्पेक्टर विजय कुजूर को सौंपी है। प्राथमिकी के बाद त्वरित कार्रवाई करते हुए नामजद छह आरोपियों में से तीन नामजद को गिरफ्तार कर केंद्रीय कारा मेदिनीनगर में न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। गिरफ्तार आरोपियों में मृतका शोभा का पति राजेश दास,ससुर उमेश दास व सास बबीता देवी शामिल है। शव को पोस्टमार्टम के बाद मृतका के मायकेवाले साथ लेकर चतरा शनिवार संध्या रवाना हो गए। मृतका के मायके में रविवार को अंतिम संस्कार किया गया।रविवार को आए मृतका के अल्ट्रासाउंड रिपोर्ट में भी शोभा के चार माह की गर्भवती होने की पुष्टि हुई है।

खबरें और भी हैं...