बालिका व्यक्तित्व विकास शिविर कार्यक्रम का आयोजन:बेटी को पढ़ाएं, भेदभाव नहीं करें

बारियातू2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

प्रखंड मुख्यालय स्थित सरस्वती शिशु विद्या मंदिर परिसर में विद्या भारती योजना के तहत एक दिवसीय बालिका व्यक्तित्व विकास शिविर कार्यक्रम का आयोजन शनिवार को किया गया। इस कार्यक्रम में बहनों के लिये विभिन्न प्रकार के प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।कार्यक्रम में कक्षा तृतीय से पंचम तक हिंदी एवं अंग्रेजी में सुलेख तथा चित्रकला, कक्षा षष्ठ से अष्टम तक निबंध एवं चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के दौरान बहनों को समाज में अपने दायित्वों को सफलतापूर्वक कैसे निर्वहन करना है इस पर विशेष चर्चा करते हुए हमें बेटा बेटी में कोई फर्क नहीं समझना चाहिए। बेटी को जितना पढ़ने की इच्छा है उतना पढ़ाना चाहिए। क्योंकि बेटियां घर की लक्ष्मी होती है।सहित अन्य विषयों पर ही विशेष चर्चा की गई।

खबरें और भी हैं...