तस्करों को सुराग नहीं मिला:बसंतपुर के जंगल से तस्करी के लिए मृत हाथी के काटे गए दोनों बेशकीमती दांत बरामद, झाड़ी में छिपा कर रखा था

मांडू12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
प्रेस वार्ता कर जानकारी देते डीएफओ और रेंजर। - Dainik Bhaskar
प्रेस वार्ता कर जानकारी देते डीएफओ और रेंजर।

तस्करी के लिए मृत हाथी के काटे गए दोनों दांतों को डीएफओ, रेंजर, वनकर्मियों और वन समिति के 20 लोगों की टीम ने लगातार दबिश बनाकर 48 घंटे के अंदर बरामद कर लिया। हाथी दांत की बरामदगी में पंचायत समिति सदस्यों ने भी सहयोग किया। डीएफओ वेद प्रकाश कंबोज ने वन विश्रामागार मांडू में रविवार को प्रेस वार्ता कर इसकी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि मांडू के सभी वनकर्मियों की दबिश के कारण तस्कर हाथी दांत को बाहर नहीं ले जा सके। तस्करों ने बसंतपुर के सिमरा टोला से करीब 300 मीटर दूर झाड़ी में हाथी दांत को प्लास्टिक के बोरे में छिपा कर रखा था।

इस बात की सूचना मिलते ही रेंजर सुरेश राम समेत मांडू रेंज के सभी वनरक्षी मौके पर पहुंचकर हाथी दांत को बरामद कर लिया। गौरतलब है कि शुक्रवार को बसंतपुर जंगल में एक जंगली हाथी के मरने के बाद तस्करों ने मृत हाथी के दोनों दांत को काट लिए थे। परंतु तस्कर उसे बाहर नहीं ले जा सके। डीएफओ ने बताया कि मामले के प्रति अज्ञात लोगों के खिलाफ वेस्ट बोकारो ओपी में एफआईआर दर्ज कराया जा चुका है।

खबरें और भी हैं...