कोल इंडिया में 11 वां वेतन समझौता नही हुआ:23 सूत्री मांगों को लेकर चरही महाप्रबंधक कार्यालय के समक्ष प्रदर्शन, सौंपा मांग पत्र

घाटोटांड़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

23 सूत्री मांगों को लेकर शनिवार को झारखंड कोलियरी मजदूर यूनियन ने चरही हजारीबाग महाप्रबंधक कार्यालय के समक्ष प्रदर्शन किया। इसकी अध्यक्षता क्षेत्रीय अध्यक्ष कुर्बान अंसारी ने किया। इस दौरान सभा आयोजित हुई। जिसमें नेताओं ने कहा कि कोल इंडिया में 11 वां वेतन समझौता नही हुआ है।

सरकार व प्रबंधन की मंशा कोयला मजदूरों के प्रति ठीक नही है। 160 कोयला खदानों को निजीकरण के लिए धकेल दिया गया है। सीसीएल के मजदूरों के रहने वाले क्वार्टर जर्जर है। मजदूरों के सुख सुविधाओं से धीरे धीरे वंचित किया जा रहा है। सीसीएल हजारीबाग एरिया के परियोजनाओं में भी प्रबंधन मजदूरों पर ध्यान नही दे रहा है।

एक ही पद पर वर्षों से पदस्थापित कर्मियों को स्थानांतरित नही किया जाता। परियोजना में चिकित्सा व्यवस्था चरमरा गई है। सैप के कारण मजदूरों का 15 दिनों का वेतन परियोजनाओं में लंबित है। विस्थापितों को निःशुल्क चिकित्सा , स्कूल बस शिक्षा आदि सुविधाएं दी जाए। वहीं प्रदर्शन के बाद एसओपी को 23 सूत्री मांग पत्र सौंपा गया। मौके पर जोनल संयुक्त सचिव डालचंद महतो, अकल उरांव, लखन रजवार, जगदीश रजवार, कृष्णा ठाकुर, शंकर महतो आदि मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...