ट्रैफिक व्यवस्था:इंजीनियरों ने नेताजी चौक का लिया जायजा, ढाई फीट छोटा होगा नेताजी गोलंबर

खूंटी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नेताजी गोलंबर का जायजा लेते नपं के इंजीनियर व अन्य लोग। - Dainik Bhaskar
नेताजी गोलंबर का जायजा लेते नपं के इंजीनियर व अन्य लोग।

शहर के ट्रैफिक व्यवस्था को सुगम बनाने के निमित जिला प्रशासन लगातार प्रयासरत है। उपायुक्त ने नेताजी चौक स्थित गोलंबर को हटाने का प्रस्ताव दिया था। इसका विरोध शुरू होते ही नगर पंचायत ने सोमवार की शाम खूंटी क्लब में शहर के प्रबुद्धजनों के साथ बैठक कर आम राय बनाने की कोशिश की।

प्रयास रंग लाया और प्रबुद्धजनों ने जनहित में शहर की बेहतरी के लिए गोलंबर को छोटा करने पर सहमत हुए। इसी के बाद उपायुक्त शशिरंजन ने जनभावना के अनुरूप कार्य करने का निर्देश नगर पंचायत को दिया।

प्रबुद्धजनों से सकारात्मक सुझाव आने से उत्साहित नगर पंचायत के कार्यपालक पदाधिकारी रविप्रकाश सिन्हा के निर्देश पर मंगलवार को इंजीनियरों की टीम ने नेताजी चौक स्थित गोलंबर का जायजा लिया।

इस क्रम में इंजीनियर ने यह समझने का प्रयास किया की गोलंबर को कैसे और कितना छोटा किया जा सकता है। मौके पर मौजूद स्थानीय प्रबुद्धजनों ने गोलंबर को अधिक से अधिक ढाई फीट छोटा करने का सुझाव इंजीनियर को दिया।

इंजीनियर ने बताया की गोलंबर को चारो ओर से ढाई-ढाई फीट छोटा आसानी से किया जा सकता है। इससे सड़क करीब पांच फीट चौड़ी हो जाएगी। इंजीनियर ने बताया की वे अपनी रिर्पोट कार्यपालक पदाधिकारी को सौंप देंगे।

उसके बाद डिटेल प्लान बनाकर कार्य प्रारंभ किया जाएगा। मौके पर राजेंद्र प्रसाद, वार्ड पार्षद अनूप साहू, संजय मिश्रा, रविकांत मिश्रा, सतीश गुप्ता, राजकुमार गुप्ता आदि उपस्थित थे। शहर के प्रबुद्धजनों ने नगर पंचायत से नेताजी चौक में नेताजी सुभाषचंद्र बोस की आदमकद प्रतिमा हटाकर पुन: पहले की तरह घोड़ा में सवार नेताजी की प्रतिमा स्थापित कराने की मांग की है।

संजय मिश्रा एवं अनूप साहू ने कहा कि वर्तमान में स्थापित नेताजी की प्रतिमा जर्जर हो गयी है। इससे बदला जाना चाहिए। सामाजिक कार्यकर्ता रविकांत मिश्रा ने कहा की सरकारी स्तर से अगर प्रतिमा नहीं बदली जाती है तो शहरवासी आपसी सहयोग से भी बदला जा सकता है।

प्रबुद्धजनों ने कहा, बाइपास का निर्माण अविलंब हो
श्रीपाल जैन एवं मदन मिश्रा ने कहा कि नेताजी सुभाषचंद्र बोस एवं भगत सिंह की प्रतिमाओं से शहर के लोगों की भावनाएं जुड़ी हुई है। वयोवृद्ध भाजपा नेता एवं समाजसेवी मुन्नीनाथ मिश्रा एवं रविकांत मिश्रा ने कहा कि सड़कों की चौड़ीकरण होनी चाहिए।

बढ़ती ट्रैफिक को देखते हुए बड़ी गाड़ियों के लिए बाईपास सड़क का निर्माण अविलंब होनी चाहिए। सांसद प्रतिनिधि मनोज कुमार ने कहा कि ट्रैफिक लाइट लोगो की मुश्किलें बढ़ा रही है। उन्होंने बड़ी मालवाहक वाहनों के लिए शहर में नो एंट्री का समय निर्धारित करने की मांग की।

राजेंद्र प्रसाद ने कहा कि जिला प्रशासन अपनी गलत फैसले को सही ठहराने के लिए नेताजी एवं भगत सिंह की प्रतिमाओं को हटाना चाह थी। ट्रैफिक सिग्नल बिल्कुल ही गलत स्थान में लगी है। जिसके कारण दिन भर सड़कें जाम हो रही है।

खबरें और भी हैं...