धर्म-समाज:संतान की लंबी उम्र के लिए माताओं ने रखा निर्जला उपवास

मगनपुर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

गोला प्रखंड के सभी गांवों में योग के अनुसार शनिवार व रविवार को जीउतीया का पर्व मनाया गया। झारखंड की महिलाएं जीउतीया का पर्व आदिकाल से ही पूर्वजों के अनुसार करते आ रही हैं। महिलाओं ने अपनी संतान की लंबी उम्र व सुख समृद्धि के लिए निर्जला उपवास रखा। इसके बाद पूजा की। क्षेत्र के पतरातू, मुरुडीह, मगनपुर, सोसोकला, सरलाकला, संग्रामपुर, बरलंगा, सरगडीह, पुरबडीह, कोरांबे, हेमतपुर, कोरांबे, मुरपा, बंदा सहित प्रखंड क्षेत्र के सभी गावों में भगवान जिउतबाहन की पूजा अर्चना की गई। इस दौरान पुरोहितों द्वारा पौराणिक कथाएं भी कही गई। जिसे महिलाओं ने सुना।

वहीं महिलाओं ने पारंपरिक गीत भी गाये। क्षेत्र के पतरातू में पूजा अर्चना करतीं सुनीता देवी, सुधा देवी, शांति देवी, द्रौपदी देवी, मीना देवी, चांदनी देवी समेत अन्य महिलाओं ने की। वहीं गोला के सुवर्ण वनिक दुर्गा मंदिर में समाज के तरफ से भव्य पूजा का आयोजन किया गया। जिसमें भारी संख्या में पहुंचीं महिलाओं ने पूजा अर्चना की। यहां पुजारी विपुल घोषाल और अजय घोषाल द्वारा वैदिक मंत्रों से सभी को पूजा कराई गई। इसके अलावा अन्य कई जगहों में भी विधि विधान से पूजा हुई।

मौके पर समाज के अध्यक्ष प्रताप चंद पोद्दार, सचिव बापी पोद्दार, गौर चंद्र पोद्दार, पूर्व अध्यक्ष रमेश पोद्दार, नवदीप पोद्दार, पंचम चंद्र पोद्दार, शत्रुघन पोद्दार, अनुप पोद्दार, मनोज पोद्दार, परितोष पोद्दार, संजय किशोर पोद्दार, सुखदेव पोद्दार, लालटू चंद्रा, दीपक पोद्दार, रूपेश पोद्दार, पंचम पोद्दार, अनूप पोद्दार, तपन पोद्दार आदि मौजूद थे।

भदानीनगर में भी महिलाओं ने की पूजा
भदानीनगर क्षेत्र में विश्वकर्मा पूजा और जीउतीया पर्व धूमधाम से मनाया गया। शनिवार को क्षेत्र के चौक चौराहा, गैरेज, वाहन दुकान, लोहे की दुकान, भुरकुंडा स्टेशन, चैनगड़ा सहित अन्य जगहों पर भगवान विश्वकर्मा की पूजा हुई। वहीं रविवार को संतान की दीर्घायु के लिए माताओं ने निर्जला उपवास रखा। सोमवार को माताएं अपना उपवास खत्म करेंगे। इस दिन पर्व करने वालों के घरों में कई प्रकार के पकवान बनाए जाएंगे।

खबरें और भी हैं...