पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मौत का मामला:बरवाडीह के रेलकर्मी की संदेहास्पद स्थिति में मौत

बरवाडीह16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

बरवाडीह आरओएच में पदस्थापित रेलकर्मी केके विश्वकर्मा की संदेहास्पद स्थिति में मौत मंगलवार को हो गई। घटना को लेकर मिली जानकारी के अनुसार आरओएच में पदस्थापित केके विश्वकर्मा पिछले कई दिनों से अपनी ड्यूटी से अफसेंट था। मंगलवार को फिर से योगदान देने को लेकर अपने कार्यालय में गया था। जिसके बाद वापस लौटने पर पहड़तल्ली स्थित गैंग हट पर जाने के क्रम में मेवालाल नामक व्यक्ति की झोपड़ी में रखे खटिया में जाकर सो गया।

उस वक्त घर में मेवालाल की बहू के अलावा कोई नहीं था। जब मेवालाल और परिवार के अन्य सदस्यों के पहुंचने पर केके विश्वकर्मा को उठाने का प्रयास किया गया। तो वह नहीं उठा। इसके बाद मामले की जानकारी रेलवे चिकित्सा अधिकारी डॉ विजय शर्मा के साथ संबंधित अधिकारी आरपीएफ और पुलिस टीम को दी गई। जहां मौके पर पहुंचे रेलवे चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर वर्मा के द्वारा चिकित्सक की जांच के बाद केके विश्वकर्मा को मृत घोषित कर दिया गया।

थाना प्रभारी श्रीनिवास कुमार सिंह ने बताया गया कि यह मामला जीआरपी के अंतर्गत है। इसलिए पूरे मामले की पड़ताल जीआरपी के द्वारा की जाएगी। वहीं जीआरपी डालटनगंज के द्वारा शव को कब्जे में लेकर डालटेनगंज सदर अस्पताल में पोस्टमार्टम कराए जाने के बाद मृतक के परिजन को सौंप दिया गया। वहीं पुलिस और अधिकारियों के अनुसार प्रथम दृष्टया शराब की वजह से मौत का कारण बताया जा रहा है।

मृतक के परिवार पाथर्डी में रहते थे। उधर बुधवार को आरओएच शेड में केके विश्वकर्मा की मौत के बाद रेल अधिकारी और कर्मियों के द्वारा शोक सभा का आयोजन किया गया। जहां मृतक रेलकर्मी केके विश्वकर्मा की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की गई। इस दौरान सहायक मंडल यांत्रिक अभियंता जीशान अली, जुगनू दास, सरोज सिंह, मिथिलेश राम, आरके उरांव, आशुतोष श्रीवास्तव, चंदन कुमार समेत कई रेल कर्मी मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...