पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

इस जज्बे को सलाम:शादी समारोह के तीसरे दिन मरीजों के इलाज के लिए काम पर लौट आए डॉ. जेपी

बरवाडीह2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • देश और समाज ने योद्धा की श्रेणी में रखा है तो उससे पीछे नहीं हट सकते - डॉ जेपी

बरवाडीह सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चिकित्सक डॉ. जेपी साहू अपने कार्य से कोरोना योद्धा के रूप में अलग ही संदेश दे रहे हैं। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में पदस्थापित डॉ. जेपी साहू का विवाह इसी संक्रमण काल के दौरान 30 अप्रैल, 2021 को हुआ। 3 मई तक सभी वैवाहिक रस्म निभाने के बाद डॉ. जेपी साहू बिना समय गंवाए 5 मई को पुनः सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में योगदान देते हुए अपनी पूरी टीम के साथ संक्रमण से मुक्त कराने के अभियान में योद्धा के रूप में फिर से जुड़ गए।

एक ओर जहां वैवाहिक कार्यक्रम के लिए सामान्य कर्मचारी से लेकर वरीय अधिकारी लगभग 1 माह से अधिक समय तक की छुट्टी लेन पर रहते हैं। वही डॉक्टर जेपी साहू मात्र एक सप्ताह की छुट्टी लेकर अपने वैवाहिक कार्यक्रम को सामान्य तरीके खत्म के लौट आए। डॉक्टर साहू ने बताया कि आज पूरा देश संक्रमण की चपेट में है। मेरी जहां पदस्थापना है, वहां पहले से चिकित्सक की कमी है। ऐसी स्थिति में मेरा लंबे समय तक छुट्टी पर रहना सही नहीं था। अगर हमे देश और समाज ने योद्धा की श्रेणी में रखा है तो उससे पीछे नहीं हट सकते हैं।

खबरें और भी हैं...