हड़ताल:15 दिन में भुगतान नहीं होने पर भूख हड़ताल- कन्हाई

बरवाडीह6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • लेकिन यहां तीन से चार माह हो गए और पैसा नहीं मिला

झारखंड सरकार, जिला प्रशासन एवं प्रखंड प्रशासन की लापरवाही के कारण प्रखंड क्षेत्र के सभी किसान परेशान हैं। किसानों ने वर्ष 2020 के दिसंबर माह में एवं 2021 के जनवरी माह में लैम्पस में अपना धान बेचा था। जिसका पैसा किसान को अभी तक नहीं मिला है। इसे लेकर गुरुवार को प्रखंड के कुछिला पंचायत के कृष्णा प्रसाद, नेजाम खान, शोभनाथ साव, महताब अंसारी, नेजामुद्दिन अंसारी, गोल्डन अंसारी, रूबी गुप्ता, सारदा देवी, हबीब मियां, यूनुस अंसारी, सहनाज बीबी, शकील अहमद, इल्यास अंसारी, रौशन अंसारी समेत कई किसानों ने सामाजिक कार्यकर्ता कन्हाई सिंह के साथ बैठक की। इस दौरान किसानों ने बताया कि सरकार का निर्देश था कि किसान को धान बेचने के तीन में आधा पैसा मिल जाएगा और फिर 15 दिन में पूरा पैसा मिल जाएगा।

लेकिन यहां तीन से चार माह हो गए और पैसा नहीं मिला है। इस पर सामाजिक कार्यकर्ता कन्हाई सिंह ने कहा कि झारखंड सरकार ने किसानों को प्रलोभन और झूठा आश्वासन देकर धोखा देने का काम किया है। किसान दिन-रात खेत में मेहनत कर फसल उगाते हैं और उसे सरकार लेकर पैसा नहीं दे रही है। कन्हाई सिंह ने लातेहार उपायुक्त अबू इमरान एवं बरवाडीह प्रखंड विकास पदाधिकारी राकेश सहाय से 15 दिन के अंदर प्रखंड के सभी किसानों को धान का बकाया राशि देने की मांग की है। उन्होंने कहा है कि 15 दिन के अंदर उन्हें भुगतान नहीं किया गया तो हम सभी बाध्य होकर प्रखंड कार्यालय के सामने भूख हड़ताल पर बैठ जाएंगे। जिसकी पूरी जिम्मेवारी जिला प्रशासन व प्रखंड प्रशासन की होगी।

खबरें और भी हैं...