पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पुलिस से नोकझोंक:बिजली के लिए ग्रामीणों ने घेरा कार्यालय

बरवाडीह8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • जेई को मांगपत्र सौंपा, 15 नवंबर के बाद कार्यालय में तालाबंदी की चेतावनी

बरवाडीह प्रखंड क्षेत्र के छिपादोहर और केड़ पंचायत की बिजली की समस्या को लेकर बुधवार को संयुक्त ग्रामसभा के बैनर तले प्रखंड मुख्यालय में सैकड़ों की संख्या में पहुंचे ग्रामीणों ने आक्रोश मार्च निकालकर विद्युत कार्यालय का घेराव किया। आक्रोश मार्च का नेतृत्व सामाजिक कार्यकर्ता कन्हाई सिंह ने किया। बस-स्टैंड से शुरू हुआ यह मार्च बरवाडीह बाजार होते हुए पूरे नगर भ्रमण के बाद विद्युत कार्यालय के समीप पहुंचकर करीब एक घंटे के लिए विद्युत कार्यालय का घेराव किया व जमकर नारेबाजी की।

आक्रोशित ग्रामीणों ने विद्युत अधिकारियों के समक्ष छिपादोहर पंचायत क्षेत्र के हंसराज टोला में ग्रामीणों को कनेक्शन मुहैया कराने, गाड़ी ग्राम के मतनाग और ककहियाटांड़ में ट्रांसफार्मर लगाने, विद्युत विभाग द्वारा अनावश्यक बिजली बिल देकर लोगों को परेशान नहीं करने, जरूरतमंद परिवारों को उचित राशि पर कनेक्शन मुहैया कराने समेत अन्य मांगें रखी। विद्युत कार्यालय का घेराव करने के दौरान कन्हाई सिंह और ग्रामीणों की पुलिस पदाधिकारी अजय कुमार दास के साथ नोकझोंक भी हुई।

वरीय पदाधिकारियों को बुलाने की मांग पर अड़े थे ग्रामीण

लोगों ने विद्युत विभाग के वरीय अधिकारियों के साथ बरवाडीह के प्रखंड विकास पदाधिकारी को मौके पर बुलाने की मांग करने लगे। मौके पर पहुंचे विभाग के कनीय अभियंता वीरेंद्र चौधरी को मांगपत्र सौंपा। मांगपत्र में ग्रामीणों ने विभाग को 15 नवंबर तक का अल्टीमेटम देते हुए कहा है कि मांगें पूरी नहीं होने पर 15 नवंबर के बाद विद्युत कार्यालय में तालाबंदी की जाएगी। इस दौरान मौके पर पहुंचे बीडीओ राकेश सहाय ने ग्रामीणों को उनकी मांगों को पूरा कराने का आश्वासन दिया है। प्रदर्शनकारियों में सतीश कुमार यादव, विनोद खलखो, दिलीप कुमार सिंह, सुमंत कुमार सिंह, अजीत कुमार समेत काफी संख्या में ग्रामीण मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...