श्रमिक के तानाशाही:15 दिनों के अंदर मांग पूरी नहीं होने पर वन श्रमिकों ने दी आंदोलन की चेतावनी

बेतला2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पलामू व्याघ्र परियोजना क्षेत्र के बेतला नेशनल पार्क गेट के द्वार पर पलामू टाइगर रिजर्व के सभी रेंज के वन श्रमिक यूनियन ने हिस्सा लिया। झारखण्ड वन श्रमिक यूनियन के बैनर तले बुधवार को धरना प्रदर्शन किया। इस दौरान वन श्रमिक ने वन विभाग के अधिकारियों के तानाशाही रवैया को खूब कोसा। यूनियन के अध्यक्ष सिद्धिनाथ ने कहा कि जंगल और जानवरों को बचाने के लिए हमलोग दिन रात कड़ी मेहनत करते हैं वन विभाग के अधिकारियों वन श्रमिक के साथ तानाशाही करते हैं।

वहीं वन श्रमिकों के पिछले 11 माह से बकाया मजदूरी का भुगतान अविलंब करने,साथ ही वन श्रमिकों को प्रतिमाह मजदूरी दिया जाए,वन श्रमिकों की सेवा नियमितीकरण समेत अन्य मांगो ंको 15 दिन के अंदर पूरा नही किए जाने पर पीटीआर वन प्रबंधन के खिलाफ अनिश्चितकाल धारना प्रदर्शन करने की अंतिम चेतावनी दी। वहीं पीसीसीएफ व पलामू टाइगर रिजर्व के निर्देशक नाम छः सूत्री मांग पत्र के बेतला रेंजर को सौपने के बाद धारना प्रदर्शन को समाप्त किया गया।

खबरें और भी हैं...