पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कार्रवाई:निधन के पूर्व महिला के दिए बयान पर 4 पर केस

भवनाथपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

थाना क्षेत्र के कोन मंडरा निवासी आशीष गुप्ता की मृतक पत्नी माया देवी के फर्द बयान पर भवनाथपुर थाना पुलिस ने चार लोगों पर एक सुनियोजित साजिस के तहत खाना में जहर देकर हत्या करने की प्राथमिकी दर्ज किया है । घटना बीते 28 अप्रैल की है।

मृतक 26 वर्षीय माया देवी ने मरने से पूर्व गढ़वा सदर अस्पताल में स्थानीय पुलिस को अपना दिए फर्द बयान में कहा था कि वर्ष 2014 में मेरे घरवालों ने हिन्दू रीति रिवाज से कोन मंडरा निवासी स्व विदेशी साव के पुत्र आशीष गुप्ता से हुई थी। जिससे तीन लड़की व एक लड़का है।

घटना के समय पीड़ित गर्भवती भी थी। लेकिन शादी के तीन वर्ष के बाद ही मुझे लड़की होने पर मेरे पति आशीष गुप्ता उसकी मां कलावसी कुंवर, भसुर शिव कुमार व उसकी पत्नी के द्वारा अक्सर लड़की जनने को लेकर अभद्र गाली गलौज मारपीट कर प्रताड़ित किया करते थे। जिसको लेकर गांव में कई बार पंचायत बुलाकर मामले को रफा दफा भी किया गया था।

बीते 28 अप्रैल की रात्रि उक्त लोगों के द्वारा एक सुनियोजित साजिस कर मेरे खाने में जहर मिलाकर हत्या करने का प्रयास किया गया। जहर खाने के बात मुझे आनन फानन में इलाज के लिए गढ़वा सदर अस्प्ताल में भर्ती कराया गया। महिला के फर्द बयान के बाद उसकी मौत हो गई। पुलिस के द्वारा मृतक के फर्द बयान पर भवनाथपुर थाना में प्राथमिकी दर्ज कर अनुसंधान जारी कर दिया गया है ।

खबरें और भी हैं...