बंदरों का आतंक / भवनाथपुर में बंदर ने बच्चे को किया जख्मी

X

  • लोगों के शोर मचाने पर बच सकी बच्चे की जान

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

भवनाथपुर. अरसली पंचायत के अरसली बस्ती के ग्रामीण बंदर के आंतक से खौफजदा हैं। शनिवार काे बंदर ने घर में सो रहे 1 वर्षीय मासूम बच्चे के सिर को पंजों से नोंच डाला। परिजनों के शाेर मचाने पर बड़ी मुश्किल से बच्ची को बंदर ने छाेड़ा। 
घायल बच्चे काे इलाज के लिए गांव के एक मेडिकल में प्राथमिक उपचार कर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भवनाथपुर भेज दिया गया। सीएचसी में बच्चे को टीका लगा दिया गया है। वहीं ग्रामीणों गया राम , दिलीप पासवान, उमेश चंद्रवंशी, संजय प्रजापति, धर्मा पासवान, मुस्लिम अंसारी, मोइनुद्दीन अंसारी, सुरेन्द्र पासवान सहित दर्जनों ग्रामीणाें ने प्रशासन से बंदरों को पकड़वाने की मांग की है। पीड़ित अखिलेश पासवान ने बताया की ये दूसरी घटना है। बेटा घर में खेल रहा। 12 माह के बेटे को बंदर खींचकर नोंचने लगा। उसके के रोने का शाेर सुनकर जब पहुंचे तो बंदर वहीं था। शाेर मचाने के बाद वह छोड़ कर भागा। इससे पूर्व मेरे भगीना को सिर, हाथ और चेहरे को नोच दिया था। 
उस समय वन विभाग को लिखित में शिकायत की गई थी पर काेई असर नहीं पड़ा। इस संबंधी में रेंजर अजित सिंह ने बताया कि मेरे आने के बाद यह पहली घटना है। विभाग के किसी अधिकारी को भेजता हूं। उसे केले में नशे की गोली खिला कर बेहाेश कर जंगल में भेजने का प्रबंध करता हूं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना