नशे की हालत:दिवाली मना घर लौट रही महिला को हाथी ने पटक कर मार डाला

चैनपुर21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • चैनपुर के मरवा केरागनी की घटना, ग्रामीण बोले-हाथियों को भगाए विभाग

चैनपुर प्रखंड के कुरुमगढ़ वन क्षेत्र अंतर्गत नक्सल प्रभावित मरवा केरागनी गांव में शुक्रवार देर शाम लगभग 7:00 बजे जंगली हाथी ने दिवाली का त्योहार मना कर पड़ोस के गांव से घर लौट रही 62 वर्षीय अधेड़ महिला को पटक-पटक कर मार डाला। मरवा गांव निवासी 62 वर्षीय बुधनी देवी पति स्वर्गीय गणपति महतो पड़ोस के गांव में दिवाली मनाने गई थी। जहां से घर लौटने के क्रम में काफी नशे की हालत में थी। शाम लगभग 7:00 बजे घर से कुछ दूर पर जंगली हाथी ने उसे पकड़ कर पटक दिया और पैरों से कुचल दिया। छत-विछत शव देख परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है। हाथी द्वारा महिला को पटक कर मार डालने की सूचना सुबह ग्रामीणों को हुई।

ग्रामीणों को सूचना मिलने के बाद इसकी सूचना कुरुमगढ़ थाना व चैनपुर फॉरेस्ट विभाग को दी गई। फॉरेस्ट विभाग व कुरुमगढ़ थाना मौके पर पहुंचकर घटना की जानकारी ली। जिसके बाद शव को कब्जे में कर पोस्टमार्टम के लिए गुमला भेज दिया गया। इधर वनपाल एंथोनी लकड़ा ने बताया कि ग्रामीणों के माध्यम से सुबह यह सूचना मिली थी, जंगली हाथी ने महिला को पटक कर मार डाला है। सूचना के आधार पर गार्ड के द्वारा गांव जाकर के मामले की जांच की गई। वनपाल द्वारा मृतका के परिजनों को उसके अंतिम संस्कार के लिए 20 हजार रुपए दिए गए हैं। उनके द्वारा परिवार को अन्य 3.80 लाख रुपए कागजी कार्रवाई के बाद देने की बात कही गई।

पांच दिन पहले भी ग्रामीण को हाथी ने कुचला था
चैनपुर में आए दिन जंगली हाथी द्वारा आम ग्रामीणों को कुचलकर मारने की घटना सामने आ रही है। जिससे ग्रामीण काफी भयभीत है। 5 दिन पूर्व 2 नवंबर को भी किसान परशुराम को जंगली हाथी ने कुचलकर मार डाला था। जिससे ग्रामीणों काफी भयभीत है। ग्रामीणों ने वन विभाग को जंगली हाथी को क्षेत्र से खदेड़ने की मांग की थी। जिसके बाद भी जंगली हाथी द्वारा लगातार उत्पात मचाते हुए ग्रामीण क्षेत्रों में ग्रामीणों के फसल, घर, पशु और जान-माल को नुकसान पहुंचाया जा रहा है। जिससे ग्रामीण काफी आक्रोश है। अभी जंगली हाथी रोरेट हेरनाखैर के जंगलों में डेरा जमाए हुए हैं। शाम होते ही जंगली हाथी जंगल से निकलकर गांव में घुस जाते हैं और ग्रामीणों को नुकसान पहुंचा रहे हैं।

वन विभाग ने की ग्रामीणों से सतर्क रहने की अपील
वन विभाग ने ग्रामीणों से सतर्क रहने की अपील की है। साथ ही हाथी के आने पर बम पटाखा और मशाल जलाकर उसे भगाने की जानकारी दी है। कहा कि देर शाम जंगल की ओर ना जाए। वहीं वन विभाग द्वारा ग्रामीणों के बीच बम पटाखा और टार्च वितरण किया गया है। वहीं ग्रामीणों ने बताया कि बगल के रोरेग गांव निवासी किसान सुधु उरांव का एक भैंस को भी जंगली हाथी ने पटक कर मार डाला है। गरीब किसान ने विभाग से मुआवजे की मांग की है।

खबरें और भी हैं...