पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लापरवाही:10 माह से बंद है दिव्यांग भाई-बहन की पेंशन

चंदवा12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • चंदवा के कामता गांव के रहने वाले हैं तीनों भाई-बहन, पेंशन के लिए चक्कर लगाकर थके

चंदवा प्रखंड के कामता पंचायत के ग्राम कामता निवासी दिव्यांग शमीम खान (28), उसकी बहन रकीबा प्रवीण (18) व भाई समीर खान (26) की दिव्यांगता पेंशन 10 माह से इनके बैंक खातों में नहीं आ रही है। पेंशन के लिए दिव्यांग शमीम अंचल कार्यालय और सीडीपीओ कार्यालय का चक्कर लगा थक चुके हैं।

इसके बाद शमीम ने पेंशन राशि नहीं मिलने की जानकारी सामाजिक कार्यकर्ता अयूब खान को दी। अयूब खान ने दिव्यांग भाई-बहनों से उनके घर जाकर मुलाकात कर जानकारी हासिल की। दिव्यांग शमीम ने बताया कि पहले पेंशन राशि हम भाई-बहनों के खाते में आती थी। पैसा जब बैंक खाता में आ जाता था तो मोबाइल पर पैसे आने का मैसेज भी आता था। कोरोना लॉकडाउन जब शुरू हुआ था, ठीक उसी समय मार्च, 2020 में पेंशन राशि हम भाई-बहनों के खाते में आई थी।  इसके बाद अप्रैल, 2020 से दस माह से पेंशन की राशि खाते में नहीं आ रही है। पेंशन के लिए सरकारी दफ्तरों के चक्कर काट रहे हैं। जीवन यापन के लिए पेंशन बड़ा सहारा है। दिव्यांगता के कारण ये भाई-बहन चल-फिर नहीं पाते हैं। उन्होंने बताया कि अंतिम बार छह-सात फरवरी, 2021 को खाता चेक कराया था, जहां बताया कि पैसा नहीं आया है। इनका भरण-पोषण किसी तरह इनके गरीब पिता मोफिल खान कर रहे हैं।

तीनों दिव्यांग चल-फिर नहीं पाते हैं। दिव्यांग शमीम ट्राइसाइकिल से अंचल कार्यालय और सीडीपीओ कार्यालय बड़ी मुश्किल से आना-जाना करते हैं। चलने-फिरने के लिए इन्हें ट्राइसाइकिल व अन्य उपकरण की भी आवश्यकता है। अयूब खान ने उपायुक्त लातेहार से बंद पड़े पेंशन शीघ्र चालू कराने के साथ-साथ चलने-फिरने के लिए अन्य संसाधन उपलब्ध कराने की मांग की है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आपकी सकारात्मक और संतुलित सोच द्वारा कुछ समय से चल रही परेशानियों का हल निकलेगा। आप एक नई ऊर्जा के साथ अपने कार्यों के प्रति ध्यान केंद्रित कर पाएंगे। अगर किसी कोर्ट केस संबंधी कार्यवाही चल र...

    और पढ़ें