प्लांट का जायजा:प्लांट से बिना फिल्टर हुए डैम का पानी पहुंच रहा है घरों में

चंदवारा9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

पेयजल र स्वच्छता विभाग के उरवां ट्रीटमेंट प्लांट से झुमरीतिलैया सहित पूरे कोडरमा जिले में महीनों से दूषित पेयजलापूर्ति की जा रही है। आए दिन झुमरीतिलैया सहित विभिन्न इलाकों से दूषित व गंदे पानी की आपूर्ति किए जाने की शिकायत के बाद भास्कर ने प्लांट का जायजा लिया तो कई चौंकाने वाले तथ्य सामने आए। प्लांट से बिना बिना फिल्टर किए बराकर नदी जवाहर घाट डैम से सीधे पानी की आपूर्ति की जा रही है।

नियमानुसार डैम से पानी की आपूर्ति के पूर्व उसमें केमिकल, ब्लीचिंग पाउडर, फिटकरी डाल उसे फिल्टर कर आपूर्ति करनी है। मजदूरों ने बताया कि ठेकेदार ने हम लोगों को कई महीने से फिटकरी, ब्लीचिंग पाउडर चूना केमिकल नहीं दिया है। पीएचडी प्लांट का संचालन और देखरेख निजी ठेकेदार के पास है।

ठेकेदार के दूसरे जिले का रहने के कारण यहां का कार्य दैनिक मजदूरों के जिम्मे छोड़ दिया गया हैं। गोदाम के अंदर का जायजा लेने पर पाया गया कि यहां चूना, ब्लीचिंग पाउडर, फिटकरी कुछ भी नहीं था। मजदूरों ने बताया कि ठेकेदार द्वारा हम लोगों को कई महीने से फिटकरी, ब्लीचिंग पाउडर चूना केमिकल नहीं दिया गया है। हम लोग कई बार इसकी शिकायत विभाग के अधिकारियों से की है। वहीं वाटर ट्रीटमेंट प्लांट झाड़ियों में तब्दील हो गई है। जहां से पानी सप्लाई की जाती है। पानी के अंदर बड़े-बड़े घास जम गए हैं। वहीं पानी से काफी बदबू आता है।

खबरें और भी हैं...