लोक कल्याण:सीएम से पेट्रोल-डीजल में वैट घटाने के लिए कहा

चतरा25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

भाजपा जिला इकाई ने राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से केंद्र सरकार के तर्ज पर झारखंड में पेट्रोल-डीजल में वैट घटा कर आम जनता को राहत देने की मांग की है। इस संबंध में भाजपा के जिला अध्यक्ष के नेतृत्व में एक शिष्टमंडल ने शनिवार को उपायुक्त अंजली यादव के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा है। इसमें कहा गया है कि देश में 100 करोड़ से अधिक टीकाकरण के बाद कोविड संक्रमण दर में कमी आई है।

अब देश और राज्य में अर्थव्यवस्था की गति में तेजी आने लगी है। पेट्रोल-डीजल में उत्पाद शुल्क घटा कर कीमतों में कमी की है। केंद्र सरकार ने पेट्रोल में 5 रुपए और डीजल में 10 रुपए प्रति लीटर घटाए हैं। साथ ही सभी राज्य सरकारों से भी जनहित में अपने हिस्से का वैट और सेस में कटौती कर जनता को ज्यादा से ज्यादा राहत देने का आग्रह किया है। आज राज्य सरकार 22 प्रतिशत वैट और एक रुपया सेस के माध्यम से पेट्रोल में 17 रुपए और डीजल में 13.50 रुपए जनता के पॉकेट से वसूल रही है। ज्ञापन में आगे कहा गया है कि चुनाव के पूर्व और सरकार गठन के बाद भी गठबंधन में शामिल दलों ने लोक कल्याण के लंबे चौड़े वादे किए, परंतु इसे पूरा करने में विफल साबित हुए हैं।

आपकी सरकार को लोक कल्याण के लिए पेट्रोल -डीजल की कीमतों में और कमी कराकर जनता को राहत देने का एक सुअवसर आया है। झारखंड की जनता राज्य सरकार की ओर उम्मीद भरी नजरों से देख रही है। इसे देखते हुए भाजपा ने मुख्यमंत्री से पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कटौती करने का निर्णय लेने की मांग की है। डीसी के ज्ञापन सौंपने गए शिष्टमंडल में जिला अध्यक्ष अशोक शर्मा के अलावा जिला महामंत्री मृत्युंजय सिंह, शिव बालक सिंह, पूर्व जिला अध्यक्ष रामविलास सिंह, परशुराम शर्मा आदि शामिल थे।

खबरें और भी हैं...