महंगाई की मार:खाद्य तेल 7 दिनों में 30 से 40 प्रतिशत तक महंगा

चतरा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पहले 110 रु लीटर था, अब 150 से पार हुआ

पेट्रोल और डीजल के अलावा खाद्य तेल की कीमतें भी उपभोक्ताओं पर दोहरा हमला कर रही हैं। पिछले एक सप्ताह में विभिन्न प्रकार के खाद्य तेल की कीमतें 30 से 40 प्रतिशत तक महंगा हो गई हैं, जो उपभोक्ता पर दोहरी मार कर रही है। कच्चा पाम तेल रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गया है। फॉर्चून और सरसों तेल की कीमतों में भी एक सप्ताह में 30 से 49 के बीच वृद्धि हुई है, जिसके परिणामस्वरूप खाद्य तेल महंगा हो गया है।

उल्लेखनीय है कि एक सप्ताह पहले सरसों का तेल 140 रुपए प्रति किलोग्राम बिकता था। अब यह तेल यहां 190 रुपए प्रति किलो बिक रहा। इस तरह एक सप्ताह में सरसों तेल की कीमत में प्रति किलोग्राम 50 रुपए का इजाफा हुआ है।

इसी तरह कच्चा पाम तेल यहां एक सप्ताह पूर्व 110 रुपए प्रति किलो बिका करता था। अब यह तेल 140 रुपए प्रति किलोग्राम बिक रहा है। इस तेल की कीमत पिछले एक सप्ताह में 30 रुपए की वृद्धि हुई। फॉर्चून भी एक सप्ताह पहले 120 रुपए प्रति किलोग्राम बिकता था। लेकिन अब यह फॉर्चून 185 रुपए प्रति किलो बिक रहा है। पिछले एक सप्ताह में फॉर्चून की कीमत में प्रति किलोग्राम 65 रुपए की बढ़ोतरी हुई। खाद्य तेले की कीमतों में बेतहाशा वृद्धि से आम लोग परेशान हैं।

खबरें और भी हैं...