ईद की तैयारी / रमजान...घरों में पढ़ी गई अलविदा जुमे की नमाज

X

  • शहर-ए-काजी ने जिले के लोगों से शनिवार को ईद का चांद देखने की अपील की

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 06:42 AM IST

चतरा. माह-ए-रमजान का आखिरी जुमे को मुस्लिम धर्मावलंबियों ने अलविदा की नमाज अदा की । पहली बार मस्जिदों में सिर्फ पांच लोगों ने अलविदा की नमाज पढ़ी। शेष लोगों ने अपने-अपने घरों में अलविदा की नमाज पढ़ी।नमाज के बाद लोगों ने कोरोना संकट से जल्द निजात की दुआ मांगी। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ख्याल रखा गया। जिन मस्जिदों में अलविदा के दिन हजारों की भीड़ हुआ करती थी, आज पूरा कंपाउंड खाली पड़ा हुआ था। हालांकि शहर- ए - काजी मुफ्ती नजर -ए-तौहीद  ने आम लोगों से पहले ही अपील की थी कि कोरोना को देखते हुए लोग अलविदा की नमाज पढ़ने मस्जिदों में न जाएं और न ही एक-दूसरे के घरों पर जाएं। मस्जिदों में सिर्फ पांच लोग ही नमाज पढ़ें। इसका असर भी देखने को मिला। गौरतलब है कि इस्लाम में खुदा की इबादत के लिए रमजान का महीना काफी महत्व है। इस पाक महीने में इस्लाम में आस्था रखने वाले लोग नियमित रूप से नमाज अदा करते हैं। 
कसरत से कुरान की तिलावत करते हैं। साथ-साथ कठोर उपवास रखते हैं, जिन्हें रोजे कहा जाता है। रमजान महीने के आखिरी जुमे को अलविदा की नमाज में पढ़ी जाती है। उल्लेखनीय कि कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए पूरे देश में लोकडाउन लागू है। इसे देखते हुए जिला प्रशासन ने मुस्लिम धर्मावलंबियों से नमाज अपने घरों में ही पढ़ने की अपील की है ।इसके बाद  से शहर- ए-काजी मुफ्ती नजर -ए- तौहीद ने भी जिले के लोगों से घरों में ही नमाज पढ़ने की अपील की है। तब से अब तक लोग लोकडाउन का पालन करते हुए घरों में ही नमाज ,तरावीह पढ़ रहे हैं। आज अलविदा की नमाज भी लोगों ने घरों में ही अदा की। 
शहर-ए-काजी ने जिले के लोगों से शनिवार को ईद की चांद देखने की अपील की। चांद दिखाई देने पर मोबाइल नंबर 9852951752,9508747998 व 9431386707 पर सूचना देने की बात कही।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना