पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वाहनों की लंबी कतार:साइकिल समेत नाले में गिरा मजदूर मौत, मुआवजे के लिए 4 घंटे जाम

चितरपुर14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
चितरपुर में जुटी लोगों की भीड़। - Dainik Bhaskar
चितरपुर में जुटी लोगों की भीड़।
  • गोला के ब्रह्मपुत्र प्लांट का मजदूर था परमेश्वर सिंह, जा रहा था ड्यूटी

गोला स्थित ब्रह्मपुत्र प्लांट में ड्यूटी के लिए जा रहे मजदूर की मौत चितरपुर स्थित बाजार टांड़ के समीप बुधवार को अहले सुबह साइकिल से गिरने से हो गई। मृतक की पहचान बरकाकाना के हेहल निवासी परमेश्वर सिंह (48)के रूप में हुई है। घटना की सूचना मिलते ही रजरप्पा पुलिस घटनास्थल पहुंच कर शव को अपने कब्जे में ले लिया। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया। इसके बाद परिजनों और ग्रामीणों ने मुआवजे की मांग को लेकर 4 घंटे फैक्ट्री के गेट पर शव रखकर प्रदर्शन किया। इस कारण वाहनों की लंबी कतार लग गई। पुलिस और प्रबंधन के समझाने के बाद लोग लौटे।

मृतक परमेश्वर सिंह बरकाकाना के हेहल से गोला ब्रह्मपुत्रा प्लांट काम करने के लिए साइकिल से जा रहा था। इसी दौरान चितरपुर बाजार टांड के पास साइकिल अनियंत्रित होकर नाले में गिर गई । इससे घटनास्थल में ही उसकी मौत हो गई। मृतक के तीन बच्चे और पत्नी हैं। घटना के बाद मृतक की पत्नी और परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। मृतक की आर्थिक स्थिति काफी खराब है। इकलौता कमाऊ शख्स था।

पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया शव : शंभु सिंह
रजरप्पा थाना के सहायक अवर निरीक्षक शंभु सिंह ने बताया कि मृतक के परिजनों के द्वारा आवेदन दिया गया है। इसमें कहा गया है कि परमेश्वर सिंह बरकाकाना से गोला साइकिल से काम करने जा रहा था। इसी दौरान साइकिल से गिरने से मौत हो गई है। शव को कब्जे में करके पोस्टमार्टम के लिए रामगढ़ भेज दिया गया है। पोस्टमार्टम के बाद शव को उनके परिजनों को सौंप दिया जाएगा।

अचानक शव मिलने से फैल गई बाजारटांड़ में सनसनी
चितरपुर बाजारटांड़ के एक नाले में बुधवार की अहले सुबह शव जब लोगों ने देखा तो पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई। शव मिलने की सूचना जैसे ही रामगढ़ मुख्यालय डीएसपी संजीव मिश्रा को मिली, आनन फानन में वे घटना स्थल पहुंचकर मामले की छानबीन में जुट गए। बाद में जब मृतक की पहचान हुई तब पता चला कि मृतक की मौत साइकिल से गिरने से हो गई।

पुलिस ने कहा- घटना कंपनी के बाहर हुई

कमता स्थित बीएमएल फेक्ट्री गेट के बाहर शव रखकर परिजनों को प्रबंधन के बिचौलियों के विरोध के बाद बिना मुआवजा लिए ही वहां से हटना पड़ा। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस इंस्पेक्टर रोहित कुमार और थाना प्रभारी अवधेश कुमार सद्ल बल पहुंचकर स्थिति को संभाला। इस बीच फैक्ट्री के बिचौलियों और परिजनों के बीच घंटों बहस हुई। इस संबंध में पुलिस ने बताया कि घटना फैक्ट्री से बाहर हुई है, इसलिए फेक्ट्री गेट को जाम रखना ठीक नहीं है।

खबरें और भी हैं...