पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

विदेश में समुद्र तट पर दिखी भारतीय संस्कृति:रामगढ़ से स्कॉटलैंड पहुंची छठ मइया की महिमा, अर्घ्य दे सुख-समृद्धि की कामना की

चितरपुर4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
समुद्र किनारे छठ पूजा करते अमितकांत के परिजन।

छठी मइया की महिमा अपरंपार है। यह पर्व बिहार वासियों के मन में अपनी मिट्टी, संस्कृति व आस्था का अद्भुत संगम है। वर्तमान समय में छठ पर्व बिहार, झारखंड व पूर्वी उत्तर प्रदेश तक ही सिमट कर नहीं रह गया है। बल्कि महापर्व छठ की धमक अब विदेशों में भी पहुंच गई है। यह पर्व उन बिहार, झारखंडियों के लिए और खास हो जाता है, जो पर्व के दौरान विदेशों में होते हैं। ऐसी ही कुछ बात झारखंड के रामगढ़ जिला अंतर्गत चितरपुर निवासी अमित कांत के साथ लंदन में हुई।

वे अपनी पत्नी रूबी वर्मा सहित अन्य परिजनों के साथ लंदन के स्कॉटलैंड स्थित समुद्र किनारे भक्तिभाव व धूमधाम से छठ पूजा की। वे अपने परिजनों के साथ समुद्र किनारे शुक्रवार संध्या में अस्ताचलगामी सूर्य व शनिवार सुबह में उदीयमान भगवान भास्कर को अर्घ्य दिया। साथ ही सूर्य की उपासना व छठ मइया की आराधना कर सुख, शांति व समृद्धि की कामना की।

अमित कांत के पिता राजेंद्र प्रसाद चितरपुर के लहरी मुहल्ला निवासी और वे सीसीएल रजरप्पा से सेवानिवृत्त हुए हैं। इस पूजा-अर्चना से विदेश में लोगों में छठ पूजा की परंपरा बढ़ रही है। भारतीय संस्कृति की छलक लोग देख चकित हो रहे हैं।

पिछले चार वर्षों से कर रहे हैं छठ पूजा

अमितकांत लंदन के स्कॉटलैंड में एक प्राइवेट कंपनी में सॉफ्टवेयर इंजीनियर के पद पर कार्यरत हैं। वे पिछले चार वर्षों से लगातार स्कॉटलैंड स्थित समुद्र किनारे छठ पूजा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि पूजन सामग्री खरीदने में थोड़ी परेशानी जरूर होती है। लेकिन वे किसी तरह इंतजाम कर ही लेते हैं। इसी तरह वे पिछले चार वर्षों से लंदन में छठ पर्व मनाते आ रहे हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- परिस्थिति तथा समय में तालमेल बिठाकर कार्य करने में सक्षम रहेंगे। माता-पिता तथा बुजुर्गों के प्रति मन में सेवा भाव बना रहेगा। विद्यार्थी तथा युवा अपने अध्ययन तथा कैरियर के प्रति पूरी तरह फोकस ...

और पढ़ें