अवैध कब्जा / वन भूमि पर अवैध रूप से 32 माह में दर्जन भर खुले नए होटल, प्रशासन ने किया तीन को किया ध्वस्त

X

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

चौपारण. चौपारण प्रखंड के चतरा मोड़ से सियरकोनी घाटी हथिया बाबा मंदिर से चोरदाहा तक वन भूमि में वर्षों से अवैध रूप से कब्जा जमा कर चल रहे लाइन होटलों को वन विभाग ने 32 माह बाद पुनः करवाई करते हुए बुलडोजर चलाकर ध्वस्त कर दिया है। अवैध होटल अतिक्रमण हटाव अभियान में हजारीबाग रीजन के 3 प्रशिक्षु आईएफएस अधिकारियों के अतिरिक्त बरही एसडीओ डॉ. कुमार ताराचंद, डीएसपी मनीष कुमार, सीओ नितिन शिवम गुप्ता, थाना प्रभारी नितिन कुमार सिंह, रेंजर कुरो वाड़ा के अतिरिक्त कोडरमा एवं बरही रेंजर सहित वन विभाग कर्मियों के साथ-साथ दर्जनों पुलिस बल की मौजूदगी में अभियान चलाया गया।

अधिकारियों ने बताया कि आज अभियान की शुरुआत की गई है। जिसमें तीन लाइन होटल को तोड़ा गया है। वन विभाग ने अवैध रूप से संचालित सभी लाइन होटल संचालकों को मीडिया के माध्यम से जानकारी देते हुए कहा कि ऐसे लोग अपना सामान की सुरक्षा के लिए यथाशीघ्र संचालित लाइन होटल में रखें समान खाली कर ले।  ज्ञात हो कि 30 अक्टूबर 2017 को रेंजर आरके मिश्रा के नेतृत्व में होटल अतिक्रमण हटाव अभियान शुरू किया गया था। पर राजनीतिक दबाव के कारण वन विभाग बैकफुट पर आ गया था और 32 माह के दौरान दर्जन भर नए होटल खुल कर बेरोकटोक संचालित होने लगा।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना