पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जागरूकता अभियान:डायन-बिसाही को ले जिले में 15 अक्टूबर से 3 नवंबर तक चलाया जाएगा जागरूकता अभियान

गढ़वा8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • अभियान को के उपायुक्त ने तिथि निर्धारित किया

नारायणपुर में 9 सितंबर को महिलाओं के साथ हुए दुर्व्यवहार की घटना के बाद जिले के उपायुक्त राजेश कुमार पाठक ने डायन-बिसाही को लेकर 15 अक्टूबर से लेकर तीन नवंबर तक जिले के सभी प्रखंडों में जागरूकता अभियान चलाने का निर्देश दिया है। उपायुक्त ने कहा कि इस प्रकार की घटना से यह प्रतीत होता है कि वर्तमान समय में भी समाज में इस प्रकार की सामाजिक कुरीतियां विद्यमान हैं। इसलिए सामाजिक कुरीतियों के उन्मूलन के लिए जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन पंचायत स्तर पर तत्काल करते हुए आमजनों को जागरूक किया जाएगा।

उपायुक्त ने समाज कल्याण विभाग के माध्यम से जिले के विभिन्न परियोजना के तहत प्रत्येक प्रखंड में तिथि निर्धारित कर सामाजिक कुरीतियों के उन्मूलन के लिए जागरूकता कराने, सबसे पहले गढ़वा व डंडा प्रखंड में जागरूकता कार्यक्रम आयोजित करने का निर्देश दिया गया है। उपायुक्त ने कहा कि सभी निर्धारित तिथियों को डायन प्रथा उन्मूलन से संबंधित जागरूकता कार्यक्रम के आयोजन की सम्पूर्ण जिम्मेवारी संबंधित बाल विकास परियोजना पदाधिकारी को दी गई है। संबंधित पदाधिकारी ही सुनिश्चित करेंगे कि प्रत्येक जागरूकता कार्यक्रम में एक महिला पर्यवेक्षिका एवं सेविका/सहायिका अनिवार्य रूप से उपस्थित रहेंगे और आम नागरिकों को सामाजिक कुप्रथाओं के उन्मूलन के बारे में जागरूक करेंगे।

सभी बाल विकास परियोजना पदाधिकारी निर्धारित तिथि एवं पंचायतवार डायन प्रथा उन्मूलन सम्बन्धी जागरूकता कार्यक्रम के लिए तिथि निर्धारित कर संबंधित प्रखंड विकास पदाधिकारी, सिविल सर्जन एवं समाज कल्याण विभाग को 24 घंटा के अन्दर हस्तगत करने का निर्देश दिया गया है। उपायुक्त ने संबंधित बाल विकास परियोजना पदाधिकारी को अपने-अपने क्षेत्र अंतर्गत आयोजित किये गये कार्यक्रमो का प्रतिदिन प्रतिवेदन जिला समाज कल्याण पदाधिकारी एवं संबंधित अनुमंडल पदाधिकारी को उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है।

जिले के सिविल सर्जन को संबंधित पंचायत की एएनएम और सहिया को कार्यक्रम में उपस्थित होकर ग्रामीणों को अपने विचारों से अवगत कराने का निर्देश दिया है। साथ ही संबंधित प्रखंड के प्रखंड विकास पदाधिकारी को निर्धारित कार्यक्रम में मुखिया, वार्ड पार्षद एवं विभिन्न निर्वाचित जनप्रतिनिधियों को शामिल कराने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि पुलिस अधीक्षक को कार्यक्रम के दौरान पर्याप्त मात्रा में सुरक्षा बलों को तैनात करने के लिए कहा गया है। जागरूकता कार्यक्रम को ले तिथि निर्धारित : जागरूकता कार्यक्रम को लेकर उपायुक्त ने विभिन्न प्रखंडों के लिए तिथि निर्धारित किया है।

जिसमें गढ़वा प्रखंड के कुल 22 पंचायतों में 15 अक्टूबर 19, 21, 22, 26, 27, 28 व 29 अक्तूबर को आयोजित किया जाएगा। सात दिन 3-3 तथा एक दिन एक कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। जबकि डंडा प्रखंड के तीन पंचायतों में 31 अक्तूबर को तीन कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। इसी प्रकार मेराल प्रखंड 20 पंचायतों में 16 अक्टूबर, 19, 20, 21, 22, 26 तथा 27 अक्तूबर तक, डंडई प्रखंड के 9 पंचायतों में 28, 29 और 30 अक्तूबर को, रंका परियोजना अंतर्गत प्रखंड रंका के 14 पंचायतों में 16, 19, 21, 22 और 26 अक्तूबर को चिनिया प्रखंड के 7 पंचायतों में 27, 28 और 29 अक्तूबर को रमकंडा प्रखंड के 7 पंचायतों में 31 अक्तूबर और दो तीन नवम्बर को भंडरिया परियोजना अंतर्गत भंडरिया प्रखंड के 6 पंचायतों में 15, 16 एवं 19 अक्तूबर को और बड़गड़ प्रखंड के चार पंचायतों में 21 एवं 26 अक्तूबर को जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। साथ ही मझिआंव परियोजना अंतर्गत मझिआंव प्रखंड के 9 पंचायतों में 16, 19, 21, 22 और 26 अक्तूबर को बरडीहा प्रखंड के छह पंचायतों में 27, 28, 29 व 31 अक्तूबर को कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...