हादसा / वज्रपात से खेत में हल चला रहे किसान व उसके दाे बैलाें की माैत

X

  • दूसरी घटना में वज्रपात से 15 वर्षीय किशाेर झुलसा

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

डंडई. डंडई प्रखंड के रारो गांव निवासी रामदेव प्रजापति के पुत्र पच्चू प्रजापति उम्र 30 वर्ष की हल जोतने के दौरान वज्रपात की घटना मेंं मौत हो गई। वहीं उसके दो बैल भी वज्रपात से मौके पर ही दम तोड़ दिए। जानकारी के अनुसार घटना मंगलवार शाम करीब 5:00 बजे की है। बताया जाता है कि पच्चू प्रजापति अपने खेत में हल बैल से खरीफ फसल बादाम की बुवाई कर रहा था। अचानक गरज के साथ हो रही बारिश में वज्रपात हो गई।

जिसे पच्चू झुलस गया और इलाज के लिए अस्पताल ले जाने के क्रम में उसकी मौत हो गयी। बताया गया कि पच्चू बहुत ही गरीब परिवार से था और खेती बाड़ी का काम कर अपने परिजन का भरण-पोषण करता था। अब उसका घर उजड़ गया। पत्नी व उसका 6 वर्ष का बच्चे बेसहारा हो गए। घटना की जानकारी पाते ही पंचायत के मुखिया प्रतिनिधि पंकज विश्वकर्मा, पंचायत सेवक फौजदार साहू, राजेश्वर सिंह, मोहन पासवान ,वासुदेव प्रजापति, अजय सिंह सहित अन्य लोगाें ने घटनास्थल पर पहुंचकर गहरा शोक व्यक्त किया है।

 परिजनों को मिलेगा सरकारी लाभ बीडीओ सोमा उरांव ने कहा कि मृतक किसान के परिजन को हर संभव सरकारी लाभ दिलाया जाएगा। इधर जरदे गांव में मुनारिक चौधरी का 15 वर्षीय पुत्र सकलदीप चौधरी वज्रपात की घटना से झुलस गया है। जिसको बेहतर इलाज के लिए मेराल के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उसकी हालत स्थिर बताई जा रही है। ग्रामीणों ने वज्रपात में घायल किशोर की स्थिति पर दुख जताया है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना