भोजन का अधिकार अभियान:गढ़वा जिले में खाद्यान्न वितरण में पाई गई हैं गड़बड़ियां : हेरेंज

गढ़वा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • अक्टूबर में डीलरों ने नहीं बांटा है खाद्यान्न

भोजन का अधिकार अभियान के सदस्य जेम्स हेरेंज व मिथिलेश कुमार ने कहा है कि वे लोग गढ़वा जिले के बडगढ़ प्रखंड के 3 जन वितरण दुकानदारों, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा कानून से आच्छादित राशन कार्ड लाभुकों व अनौपचारिक रूप से प्रखंड विकास पदाधिकारी सह पणन पदाधिकारी के साथ खाद्यान्न वितरण सम्बन्धी प्रशासनिक कार्यों की जानकारी हासिल की।

इस दौरान परसवार पंचायत अंतर्गत कलाखजुरी में बैठक की गई। बैठक में करीब 60 से कार्डधारी महिला पुरुष मौजूद थे। क्षेत्र भ्रमण के क्रम में खाद्यान्न वितरण से सम्बंधित कई गड़बड़ियां सामने आई। कलाखजुरी के किसी भी राशनकार्ड धारी को खाद्यान्न अक्टूबर महीने में डीलरों द्वारा वितरण नहीं किया गया है। कार्डधारकों को सिर्फ प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत दिया जाने वाला मुफ्त अनाज ही वितरित की गई है। राशन वितरण हेतु पॉश मशीन से जो पर्ची प्रिंट होती है वह भी कार्डधारकों को नहीं दी जाती है।

ग्राम कलाखजुरी के कार्डधारी दो डीलरों के अंतर्गत आते हैं। ग्रामीणों के अनुसार डीलर अरविन्द लकड़ा को प्रशासन द्वारा अगस्त 2016 से ही निलंबित किया गया है। सभी कार्डधारकों को दीपक स्वयं सहायता समूह ही राशन वितरण करता है। गाँव के अधिकांश राशन कार्डों में अक्टूबर में मुहैया कराये जानेवाले खाद्यान्न का कॉलम रिक्त हैं। यह सबूत है कि उनको अनाज नहीं दी गई है।

खबरें और भी हैं...