लंगरख्वानी का आयोजन:कोरोना के कारण चेहल्लुम का नहीं निकला जुलूस अकीदतमंदों ने कर्बला में कराया सिरनी फातेहा

गढ़वा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जिला मुख्यालय सहित विभिन्न क्षेत्रों में चेहल्लुम का त्योहार मनाया गया। हजरत इमाम हसन हुसैन की याद में मनाए जाने वाला इस त्योहार के मौके पर वैश्विक महामारी कोरोना के कारण जुलूस नहीं निकाला गया। अकीदतमंदों के द्वारा अपने -अपने मोहल्ला में ही अखाड़ा व निशान के साथ मिलनी किया गया। इस दौरान लोग या हुसैन, या हुसैन, या अली, या अली आदि कि नारे लगा रहे थे। चेहल्लुम के अवसर पर मंगलवार की रात अकीदतमंदो ने शहर के उंचरी रोड स्थित कर्बला में सिरनी फातेहा कराया। साथ ही वैश्विक महामारी कोरोना से जल्द से जल्द निजात पाने को लेकर दुआ भी की।

चेहल्लुम के मौके पर शहर के रांकी मोहल्ला में लंगरख्वानी का आयोजन किया गया। इस दौरान सर्वप्रथम हजरत इमाम हसन- हुसैन के नाम से सिरनी फातेहा कराया गया। इसके बाद लोगों के बीच सिरनी तकसीम की गई। वहीं कई जगहों पर जिक्रे शोहदा-ए-कर्बला का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम की शुरुआत कुरआन-ए-पाक की आयत तिलावत कर की गई। इसके बाद हजरत इमाम हसन-हुसैन की शान में नातिया कलाम पेश की गई। वहीं उलेमाओं के द्वारा हजरत इमाम हसन-हुसैन की जीवनी पर प्रकाश डाला गया।

खबरें और भी हैं...