गुड न्यूज:अप्रैल-22 में रामबांध तालाब का सौंदर्यीकरण होगा, ले सकेंगे बोटिंग का मजा

गढ़वा2 महीने पहलेलेखक: मो एनाम खान
  • कॉपी लिंक
गढ़वा का रामबांध तालाब। - Dainik Bhaskar
गढ़वा का रामबांध तालाब।
  • गढ़वा के रामबांध तालाब को बनाया जा रहा सुंदर, शहर के लोगों के मनोरंजन की व्यवस्था होगी
  • संवरेगा अपना शहर...फव्वारे की व्यवस्था की जाएगी, तालाब के चारों आेर पेड़-पौधे लगाए जाएंगे

नए वर्ष 2022 में गढ़वा शहरवासी बोटिंग का आनंद ले सकेंगे। शहरवासियों के लिए नगर परिषद के द्वारा शहर के सोनपुरवा मोहल्ला स्थित रामबांध तालाब में बोटिंग की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। बोटिंग की सुविधा रामबांध तालाब के सौन्दर्यीकरण के तहत लोगों को उपलब्ध कराया जाएगा। इसके लिए नगर परिषद गढ़वा के द्वारा रामबांध तालाब का सौंदर्यीकरण का कार्य प्रारंभ कर दिया गया है।

इस संबंध में नगर परिषद अध्यक्ष पिंकी केशरी ने कहा कि नगर परिषद गढ़वा के द्वारा रामबांध तालाब के सौन्दर्यीकरण को लेकर पिछले 13 मई को शिलान्यास किया गया है। तालाब का सौंदर्यीकरण का कार्य एक करोड़ दो लाख 44 हजार 662 रुपए की लागत से किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि रामबांध तालाब का सौंदर्यीकरण का कार्य अप्रैल 2022 में पूर्ण कर लिया जाएगा।

ऐसे में गढ़वा के लोग अप्रैल 2022 से तालाब में बोटिंग का आनन्द लेने लगेंगे। उन्होंने कहा कि सौन्दर्यीकरण कार्य के तहत बोटिंग की सुविधा उपलब्ध कराने के साथ ही तालाब के बीचो बीच स्टैच्यू का निर्माण किया जाएगा। साथ ही स्टैच्यू तक लोगों को जाने के लिए रास्ता का भी निर्माण किया जाएगा। इसके अलावे पटना के गांधी मैदान की तरह तालाब की चारो तरफ रौशनी की बेहतर व्यवस्था की जाएगी। साथ ही फव्वारा बनाया जाएगा।

नगर अध्यक्ष ने कहा-तालाब की मरम्मत की जाएगी

नगर अध्यक्ष ने बताया कि इसके अलावे तालाब के चारो तरफ पेड़- पौधा लगाया जाएगा। वहीं लोगों को बैठने की व्यवस्था के साथ- साथ कैंटिन की भी व्यवस्था किया जाएगा। ताकि लोग वहां बैठकर चाय- नाश्ता का भी आनंद ले सकें। विदित हो कि वर्ष 1994 में गढ़वा जिला के दूसरे उपायुक्त संतोष कुमार सत्पथी के द्वारा रामबांध तालाब का सौन्दर्यीकरण का कार्य कराया गया था। उस समय सौन्दर्यीकरण कार्य के तहत रामबांध तालाब की खुदाई करने के साथ ही तालाब के चारो तरफ चहारदीवारी का निर्माण कराया गया था। साथ ही पेड़- पौधे भी लगाए गए थे। लेकिन उनके स्थानांतरण होने के बाद अभी तक तालाब का सौन्दर्यीकरण नही किया गया है।

चार वर्ष पहले नगर परिषद के द्वारा सिर्फ चहारदीवारी व तालाब रोड की मरम्मत कराई गई थी। उपायुक्त सन्तोष कुमार सतपथी के द्वारा तालाब का सौन्दर्यीकरण का कार्य होने के बाद तालाब में होने वाली मूर्ति विसर्जन भी रोक लगा दी गई थी। लेकिन गढ़वा से उन्हें जाने के बाद लोगों द्वारा मूर्ति विसर्जन का कार्य पुन: शुरु कर दिया गया। इधर, नगर परिषद अध्यक्ष पिंकी केशरी ने कहा कि नगर परिषद क्षेत्र में लगातार विकास कार्य किया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...