सेतु गाइड प्रशिक्षण कार्यक्रम:ड्रॉपआउट बच्चों की छूटी हुई पढ़ाई की भारपाई के लिए विशेष प्रशिक्षण केंद्र

खरौंधी20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

झारखंड शिक्षा परियोजना परिषद रांची एवं प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी खरौंधी के आदेशानुसार में नव प्राथमिक विद्यालय नावाडीह खरौंधी में 6 से 14 आयु वर्ग के आउट ऑफ स्कूल बच्चे / ड्रॉपआउट बच्चे का अधिगम स्तर बढ़ाने के लिए सेतु गाइड प्रशिक्षण कार्यक्रम चलाया गया है । कार्यक्रम के तहत सेतु गाइड प्रशिक्षक का चयन सभा अध्यक्ष परमेश्वर यादव की अध्यक्षता में सर्वसम्मति से आनंद राम को सेतु गाइड प्रशिक्षक के रूप में की गई। इस संबंध में जानकारी देते हुए विद्यालय के प्रभारी शिक्षक सोहराब अंसारी ने बताया कि जिले के आउट ऑफ स्कूल (स्कूल से दूर) बच्चों को विद्यालय से जोड़ने के लिए तीन, छह माह व नौ माह के लिए विशेष प्रशिक्षण केंद्र शुरू किया जा रहा है।

विशेष प्रशिक्षण केंद्र में सेतु गाइड बच्चों को पढ़ाएंगे। उन्होने कहा कि कोविड-19 के कारण बच्चों की छूटी हुई पढ़ाई की भरपाई का टास्क सरकारी शिक्षकों को भी मिलेगा। ऐसे बच्चों के विशेष शिक्षण के लिए गांव-टोलों में चलाए जाने वाले विशेष सेतु शिक्षण केंद्रों में सरकारी स्कूलों के शिक्षक भी सप्ताह में दो दिन पढ़ाएंगे। इसे अनिवार्य कर दिया गया है। अन्य समय में बच्चों को पढ़ाने के लिए सेतु गाइड के रूप में स्थानीय युवा चयनित किए गए हैं और किए जा रहे हैं।

शिक्षकों की जवाबदेही झारखंड शैक्षिक शोध एवं प्रशिक्षण संस्थान (जेसीईआरटी) द्वारा भेजी जाने वाली शैक्षणिक सामग्री सेतु गाइड तक पहुंचाने की भी होगी।मौके पर पर्यवेक्षक मोती चंद जायसवाल,अरविंद कुमार शाह, सचिव सोहराब अंसारी, विद्यालय प्रबंधन समिति के अध्यक्ष संतोष कुमार पासवान, उपाध्यक्ष मीरा देवी, सदस्यगण नंदलाल पासवान शिवदास यादव सरिता देवी रानी देवी इत्यादि लोग उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...