दो परिवार बिखरे:छात्रा की हत्या के आरोपी ने ट्रेन से कटकर दी जान एक दिन पहले चाकू व गोली मार हो गया था फरार

बंशीधर नगर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
छात्रा के शव को दफनाते लोग। - Dainik Bhaskar
छात्रा के शव को दफनाते लोग।
  • सहेलियों के साथ स्कूल से घर लौट रही छात्रा की करिवाड़ीह में हत्या के बाद आरोपी भाग गया था

खरौंधी थाना क्षेत्र के करिवाड़ीह में मंगलवार को प्रेमिका की गोली मारकर हत्या करने का आरोपी ने ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली। बंशीधर नगर में रेलवे ट्रैक से पुलिस ने शव बरामद किया है। जहां हत्यारे प्रेमी ने आत्महत्या की है वहां से पुलिस ने एक हस्तलिखित सुसाइड नोट बराबर किया है। सुसाइड नोट में उसने अपने शव को घर तक पहुंचाने की बात कही है। सुसाइड नोट में अपना पूरा पता व मोबाइल नंबर भी लिख छोड़ा है। पुलिस घटना की सूचना के बाद घटनास्थल पर पहुंचकर शव को कब्जे में ले लिया है।

मृतक प्रेमी का नाम इम्तियाज अंसारी (19) था। बुधवार को उसने गढ़वा रोड चोपन रेलखंड पर बंशीधर नगर के रेलवे फाटक के पश्चिम दिशा में पोल संख्या 44/27 के समीप सुसाइड नोट लिख कर मालगाड़ी के समीप कूद कर जान दे दी। घटना बुधवार की शाम 5:00 बजे की है। घटना के बाद घटनास्थल पर पहुंचे आरपीएफ के जवान तथा स्थानीय थाना पुलिस ने लिखे हुए सुसाइड नोट के माध्यम से उक्त युवक की पहचान की। बताया जाता है कि घटनास्थल पर रेलवे ट्रैक पर मालगाड़ी के समीप कूदने से हत्या करने वाले उक्त युवक के दोनों पैर कट गए थे। सुसाइट नोट में नाम पता के साथ साथ लिखा था कि खुदा के लिए मेरी लाश को मेरा घर भिजवा देंगे।

मोबाइल बेच कर हत्या के लिए खरीदी थी पिस्तौल

छात्रा की हत्या करने के आरोपी आशिक ने मोबाइल बेचकर मिले पैसे से उसकी हत्या करने के लिए पिस्तौल खरीदी थी। छात्रा के परिजनों ने बताया कि वह लगातार लड़की के साथ रिश्ता बनाए रखने के लिए दबाव दे रहा था। लड़की को जान से मारने की धमकी दे रहा था। इसकी शिकायत आरोपी के परिजनों से करने पर आरोपी के परिजनों ने उसकी जमकर डांट-फटकार लगाते हुए युवक की पिटाई भी की थी। लेकिन वह अपनी आदतों से बाज नहीं आ रहा था। परेशान होकर आरोपी के परिजन उसे घर जाने के लिए दबाव देते हुए कमाने के लिए बाहर भेजा।

लेकिन आरोपी सुरत-गुजरात कमाने न जाकर आसपास के क्षेत्रों/शहरों में सार्गिदों के साथ रहा। इस दौरान छात्रा की बेरूखी से खफा होकर उसकी हत्या करने की ठान ली। उसने अपने 15000 रुपए की मोबाइल बेच दी। मोबाइल बेचकर मिले पैसे से उसने एक देशी पिस्तौल और तीन गोली खरीदी। साथ ही दो चाकू भी खरीदा। इसके बाद वह हथियार से लैस होकर गांव पहुंचा और छात्रा के लौटने का इंतजार कर रहा था।

रेवाड़ी के अचरवा टोला कब्रिस्तान में मिट्टी देकर छात्रा को दफनाया गया

इधर पोस्टमार्टम के बाद दोपहर 3:30 बजे छात्रा का शव गांव लाया गया। छात्रा का शव गांव लाते ही पहुंचते ही परिजनों में कोहराम मच गया। परिजनों की चीत्कार से पूरा माहौल गमगीन हो गया। संध्या 4:30-5:00 बजे जनाजा यात्रा के साथ छात्रा के शव को रेवाड़ी के अचरवा टोला कब्रिस्तान में मिट्टी देकर दफनाया गया। इस दौरान जनाजा यात्रा में प्रखंड प्रमुख धर्मराज पासवान, विनोद यादव जिला परिषद के भावी प्रत्याशी रामसुंदर राम चंदन सिंह कालीबाड़ी मुखिया प्रतिनिधि प्रकाश राम आदि सहित काफी संख्या में हिंदू मुस्लिम लोग शामिल हुए।

पुलिस रात भर हत्यारे के संभावित ठिकाने पर छापेमारी करती रही

छात्रा की हत्या के बाद पुलिस रात भर हत्यारे के संभावित ठिकाने पर छापेमारी करती रही। इस दौरान हत्याकांड की आखों देखी बताने वाली महिला व परिवार की सुरक्षा में रात भर पुलिस अभिरक्षा दी गई। इस दौरान पुलिस अन्य थानों की पुलिस के साथ यूपी पुलिस के साथ आरोपी के संभावित ठिकानों एवं संभावित रिश्तेदारों के यहां दविशदी। इस दौरान आरोपी के आसपास के गांव में छिपे होने की अफवाहें भी उड़ती रही। कभी राजी गांव तो कभी लोहबंधा और यूपी के मिश्री गांव में छिपे होने की बातें उड़ती रही।

खबरें और भी हैं...