पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

समाधान की मांग:राज्यपाल से मिले सांसद, मेदिनीराय अस्पताल और नीलांबर-पीतांबर विश्वविद्यालय की समस्याएं बताईं

गढ़वा19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

पलामू के सांसद विष्णुदयाल राम ने राज्यपाल से मुलाकात की। उन्होंने नीलांबर-पीतांबर विश्वविद्यालय और मेदिनीराय मेडिकल कॉलेज में व्याप्त समस्याओं का समाधान की मांग की है। सांसद ने छतरपुर डिग्री कॉलेज में रिक्त पदों की स्वीकृति, विश्वविद्यालय भवन का हस्तांतरण करने, झारखंड लोक सेवा आयोग के सिफारिश के बाद भी रजिस्ट्रार, एफओ, सीओई व सहायक रजिस्ट्रार के पदों को भरने, सूचना प्रौद्योगिकी की सुविधा व इंटरनेट की आधारभूत संरचना की कमी को दूर करने, पुस्तकालय और रिसर्च की आधारभूत संरचना को व्यवस्थित करने, शैक्षणिक व गैर-शैक्षणिक कर्मचारियों की नियुक्ति करने, शिक्षकों की प्रोन्नति की मांग की है।

साथ ही यूजीसी के अधिनियम12(बी) के तहत विश्वविद्यालय अनुदान आयोग द्वारा नीलाम्बर-पीतांबर विश्वविद्यालय को मान्यता प्रदान नही करने से संबंधित समस्याओं को भी रखा। उन्होंने राज्यपाल को बताया की मेदिनीराय मेडिकल कॉलेज व अस्पताल की स्वीकृति वर्ष 2017 में प्राप्त हुई थी। स्वीकृति के बाद मेडिकल कॉलेज का निर्माण प्रारंभ हुआ। प्रशासनिक भवन व छात्रावास का निर्माण हुआ।

साथ ही मेडिकल कॉलेज में वर्ष 2019 में प्रथम वर्ष में 100 छात्रों का नामांकन भी लिया गया। मगर उसके बाद राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग(एनएमसी) के मापदंडो के अनुरूप् आवश्यकतानुसार विभागवार संकाय(फैकल्टी) शिक्षकों की पदस्थापना नही हो सकी। जिसके चलते राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग के द्वारा विगत दो वर्षों से अनापति प्रमाण पत्र निर्गत नहीं किया जा रहा है। छात्रों का दो वर्षो से नामांकन नही हो पा रहाहै।

उन्होंने कहा कि मेदिनीराय मेडिकल कॉलेज पलामू में नामांकित/अध्यनरत छात्र-छात्राओं के आवागमन के लिए बस की सुविधा नही से महाविद्यालय द्वितीय वर्ष में अध्यनरत छात्र-छात्राओं की क्लीनिक पोस्टिंग मेदिनीराय मेडिकल कॉलेज अस्पताल में होने के कारण उन्हें आने-जाने में काफी कठिनाईयों का सामना करना पड़ताहै। वहीं मेदिनीराय मेडिकल कॉलेज में पेयजल की समुचित व्यवस्था नहीं है। स्टाफ क्वार्टर की कमी है। सांसद ने इन सभी मागों पर गंभीरता से विचार करते हुए पहल करने की अनुरोध किया है।

खबरें और भी हैं...