भारी संख्या:लखीमपुर खीरी जा रहे कांग्रेसियों को यूपी पुलिस ने रोका, धरना पर बैठे, 5 घंटे एनएच-75 जाम

बंशीधर नगर12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
झारखंड- यूपी बार्डर पर कांग्रेसियों को रोकती पुलिस। - Dainik Bhaskar
झारखंड- यूपी बार्डर पर कांग्रेसियों को रोकती पुलिस।
  • झारखंड-उत्तर प्रदेश सीमा को पूरी तरह सील, धरना पर बैठे प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष, स्वास्थ्य, कृषि मंत्री और पार्टी के विधायक

झारखंड प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर के नेतृत्व में राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता, कृषि मंत्री बादल पत्रलेख, मांडर विधायक बंधु तिर्की, रामगढ़ विधायक ममता देवी, समेत सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ बुधवार की मध्यरात्रि यूपी के लखीमपुर खीरी जा रहे कांग्रेसी नेताओं को झारखंड-यूपी बॉर्डर पर उत्तर प्रदेश की पुलिस ने जाने से रोक दिया। उतर प्रदेश की सीमा पर भारी संख्या मे लोगो को रोकने के लिए पुलिस बल के जवान उपस्थित थे।

जैसे ही कांग्रेस के मंत्री, विधायक, तथा कार्यकर्ता उत्तर प्रदेश सीमा पर पहुंचे उसी दौरान उत्तर प्रदेश पुलिस ने निषेधाज्ञा 144 का हवाला देते हुए जाने से रोक दिया। यूपी पुलिस के रोके जाने पर राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता तथा अन्य कांग्रेसी कार्यकर्ताओं की यूपी पुलिस में झड़प की स्थिति उत्पन्न हो गया। यूपी पुलिस द्वारा नहीं जाने दिए जाने के बाद उक्त स्थल पर ही सड़क के बीचो बीच धरना पर बैठ गए तथा केंद्र की मोदी सरकार व यूपी सरकार के विरुद्ध जमकर नारेबाजी की।

रात्रि 2 बजे से सुबह 7 बजे तक कांग्रेसी मंत्री विधायक के वापस लौटने तक एनएच 75 का आवागमन पूरी तरह ठप रहा। ज्ञात हो कि झारखंड प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर के नेतृत्व में कांग्रेसी नेता उत्तर प्रदेश के लखीमपुर में किसानों के आंदोलन के दौरान हुई हिंसक घटना के बाद किसानों से मिलने के लिए जा रहे थे। लखीमपुर जाने की सूचना मिलने के साथ ही उत्तर प्रदेश पुलिस ने झारखंड उत्तर प्रदेश सीमा को पूरी तरह सील कर दिया था।

नतीजा कांग्रेसी नेता बैरंग वापस लौट गये। बताते चलें कि झारखंड प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर के नेतृत्व में कांग्रेसी नेता उत्तर प्रदेश के लखीमपुर में किसानों के आंदोलन के दौरान हुई हिंसक घटना के बाद किसानों से मिलने के लिये जा रहे थे। लखीमपुर जाने की सूचना मिलने के साथ ही उत्तर प्रदेश पुलिस ने झारखंड उत्तर प्रदेश सीमा को पूरी तरह सील कर दिया था। इस मौके पर कांग्रेसी नेताओं ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार तानाशाही रवैया अपना रही है।

लखीमपुर में निर्दोष किसानों पर केंद्र सरकार के केंद्र गृह राज्य मंत्री के पुत्र के द्वारा जबरदस्ती कुचल कर मार दिया गया और पूरे राज्य में लोकतंत्र की हत्या करने का प्रयास सरकार कर रही है। नेताओं ने कहा कि जब जब मोदी और योगी की सरकार अपने राज्य में तानाशाही को लेकर पुलिस को आगे कर अपने सत्ता चलाने का प्रयास कर है। पूरे हिंदुस्तान में ऐसे तानाशाह शासक को कांग्रेस उखाड़ फेंकेगी।

मौके पर कांग्रेस के कोलिबेरा के विधायक नमन विक्सल कोनगाड़ी, कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष शहजादा अनवर, प्रदेश प्रवक्ता, राजीव रंजन पासवान, सतीश पोल, अम्बुज नीरज खालखो, पूर्व कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष मानस सिन्हा, संजय लाल पासवान, गढ़वा जिला के वरीय उपाध्यक्ष शैलेश कुमार चौबे, यूथ भावनाथपुर अध्यक्ष राजेश बैठा सहित बड़ी संख्या कांग्रेसी कार्यकर्ता शामिल थे।

जिन नेताओं को रोका गया

प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर ,राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता कृषि मंत्री बादल पत्रलेख विधायक बंधु तिर्की ,ममता देवी, नमन विक्सल कोनगाड़ी, सहित सैकड़ों कार्यकर्ता ।

खबरें और भी हैं...