कार्यालय कक्ष:लघु सिंचाई की 25 और जिला परिषद की 3 योजनाएं अपूर्ण

गुमला10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

उपायुक्त शिशिर कुमार सिन्हा की अध्यक्षता में विशेष केंद्रीय सहायता योजना मद, आकांक्षी जिला योजना मद तथा जिला पर्यटन मद अंतर्गत क्रियान्वित योजनाओं की अद्यतन भौतिक एवं वित्तीय प्रगति की समीक्षा बैठक आईटीडीए भवन स्थित उपायुक्त के कार्यालय कक्ष में की गई।

उपायुक्त ने विशेष केंद्रीय सहायता मद अंतर्गत लंबित योजनाओं की समीक्षा की। लघु सिंचाई की समीक्षा के क्रम में 87 योजनाओं में से 62 पूर्ण तथा 25 योजनाएं लंबित पाई गई। लंबित योजनाओं में 14 लिफ्ट इरिगेशन, 09 कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय व 02 शौचालय से संबंधित योजनाएं शामिल हैं।

जिसपर कार्यपालक अभियंता ने बताया कि शौचालय से संबंधित योजनाएं पूर्ण कर ली गई हैं। शेष 25 योजनाएं लंबित हैं। जिसपर उपायुक्त ने लंबित योजनाओं को ससमय पूर्ण करने का निर्देश दिया। जिला परिषद के कार्यों की समीक्षा के क्रम में 99 योजनाओं में से 96 पूर्ण व 03 योजनाएं अपूर्ण पाई गई। लंबित कार्यों में सिसई प्रखंड के पुसो थाना में पेयजल एवं 04 अदद शौचालय निर्माण, बिशुनपुर प्रखंड के बनालात स्थित पुलिस पिकेट में पेयजल एवं 06 अदद शौचालय निर्माण तथा घाघरा प्रखंड के नौनी पुलिस पिकेट में पेयजल एवं 06 अदद शौचालय निर्माण का कार्य शामिल है

जिसपर डीसी ने जिला अभियंता को अक्तूबर के अंत तक लंबित कार्यों को पूर्ण करने का निर्देश दिया। बैठक में आकांक्षी जिला मदांतर्गत क्रियान्वित योजनाओं की अद्यतन स्थिति की समीक्षा की गई। समीक्षा के दौरान उपायुक्त ने लंबित योजनाओं के कार्यों को ससमय पूर्ण करने का निर्देश दिया। जिला पर्यटन मद अंतर्गत ग्रामीण विकास विशेष प्रमंडल के कार्यों की भी समीक्षा की।

खबरें और भी हैं...