पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

प्रदर्शन को बताया नौटंकी:किसानों के भुगतान में विलंब के लिए केंद्र जिम्मेदार, खेतों में भाजपा का प्रदर्शन नौटंकी:रोशन

गुमलाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

गुमला जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष रोशन बरवा ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा झारखंड भाजपा द्वारा जिस प्रकार खेतों में प्रदर्शन किया जा रहा है, वो महज एक नौटंकी है। भाजपा को किसानों की चिंता बिल्कुल नही है। केवल अपनी लोकप्रियता पाने के लिए यह कार्य किया जा रहा है। जबकि दिल्ली की सड़कों पर लाखों किसान 6 महीनों से आंदोलनरत हैं और सैकड़ों किसान अपने प्राण तक त्याग चुके हैं। लेकिन उन किसानों के लिए एक भी समर्थन बातें नहीं करना भजपा की दोगलापन नीति को दर्शाता है।

कांग्रेस पार्टी अपने चुनाव में आम लोगों से यह वादा किया था कि जब भी कांग्रेस सत्ता में आएगी सबसे पहले किसानों का कर्ज माफ करेगी और गठबंधन की सरकार ने झारखंड में यह काम कर दिया और झारखंड के 2,46,012 किसानों का लगभग 980.06 करोड़ का कर्ज माफ किया है। गुमला जिला का 68320 किसानों का लगभग 26.6 करोड़ रुपयों का कर्ज माफ करने का काम किया है। उन्होंने कहा कि खरीफ विपणन मौसम 2020-21 में झारखंड राज्य खाद्य निगम द्वारा राज्य के 21 जिलों में तथा भारतीय खाद्य निगम द्वारा तीन जिलों की धान अधिप्राप्ति का कार्य किया।

झारखंड राज्य खाद्य निगम को 44.85 लाख क्विंटल धान क्रय का लक्ष्य दिया गया था। इसके विरुद्ध46 लाख क्विंटल धान की खरीददारी हुई, जो कि निर्धारित लक्ष्य का 102प्रतिशत है। भारतीय खाद्य निगम को 16 लाख क्विंटल धान क्रय का लक्ष्य दिया गया था। इसके विरुद्ध 16.40 लाख क्विंटल धान का क्रय किया गया जो की निर्धारित लक्ष्य से अधिक है। पिछले वर्षों की तुलना में इस वर्ष धान की खरीददारी अधिक हुई। किसानों का कुल 943.21करोड़ का भुगतान होना था। जिसके एवज में 570 करोड़ का भुगतान हो चुका है। अभी किसानों का लगभग 373.21 करोड़ का भुगतान बकाया है। लेकिन जैसे जैसे भारतीय खाद्य निगम का पैसा आ रहा है। झारखंड सरकार द्वारा किसानों का भुगतान भी हो रहा है ।जो भी भुगतान में विलंब हुआ, वह केंद्र सरकार की जिम्मेदारी है।

खबरें और भी हैं...