पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जनजातीय सम्मेलन:आदिवासियों को झांसा देकर सत्ता में रहना जानती है कांग्रेस-झामुमो की सरकार, मान-सम्मान नहीं : समीर

गुमला14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
संबोधित करते राष्ट्रीय अध्यक्ष सह राज्यसभा सांसद। - Dainik Bhaskar
संबोधित करते राष्ट्रीय अध्यक्ष सह राज्यसभा सांसद।
  • भाजपा अनुसूचित जनजाति मोर्चा की ओर से जनजातीय सम्मेलन सह कार्यसमिति की बैठक

आदिवासियों को किस प्रकार मान-सम्मान मिलना चाहिए, ये सिर्फ भाजपा पार्टी जानती है। अन्य पार्टी सिर्फ आदिवासियों के नाम पर राजनीति करना जानती है। वह सिर्फ आदिवासियों के नाम को भंजा कर सत्ता पर काबिज होनी जानती है। ये बातें नगर भवन में आयोजित भाजपा अनुसूचित जनजाति मोर्चा द्वारा जनजातीय सम्मेलन सह कार्यसमिति के बैठक में अजजा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह राज्य सभा सांसद सीमर उरांव ने आदिवासियों को अपने संबोधन मेंं कहा।

उन्होंने कहा कि हम आदिवासियों को उसी पार्टी के लिए कार्य करना है जो हमारी मान-सम्मान व हक अधिकार के लिए हमेशा तत्पर रहता है। देश के पीएम मोदी हमेशा हर वर्ग के लोगों के बारे में सोचते हैं और सभी के एक समान दर्जा देते हैं। समीर उरांव ने झारखंड के वर्तमान गंठबंधन सरकार पर प्रहार करते हुए कहा कि हेमंत सरकार लूट-खसोट की सरकार है।

हेमंत सरकार का दो वर्ष के कार्यकाल में किसी प्रकार का विकास नहीं हुआ है। सिर्फ विकास के नाम पर जनता को ठगने का काम किया गया है। झारखंड मेंं झामुमो, कांग्रेस व राजद की सरकार के आने से लूटपात, डकैती, बलात्कार जैसे घटनाओं में इजाफा हुआ है।

आदिवासी समाज अत्यंत पिछड़ा, हक के लिए लड़ें

पूर्व विधानसभा अध्यक्ष दिनेश उरांव ने कहा कि अब समय आ गया है हम आदिवासी भाई-बहन को अपना हक व अधिकार के लिए लड़ाई लड़ने का। जबतक हम अपनी लड़ाई स्वयं नही लड़ेंगे तब तक हमें हक व अधिकार नहीं मिलेगा। हक की लड़ाई लड़ने के लिए भाजपा हमेशा से आवाज उठाते रही है। भाजपा जानती है कि आदिवासी समाज अत्यंत पिछड़ा समाज है। जो खेती बारी पर ज्यादातर आश्रित है। हमें आदिवासियों के हक व अधिकारी के लिए लड़ाई लड़ते रहने की आवश्यकता है।

खबरें और भी हैं...