पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

मांग:प्रशिक्षित पारा शिक्षकों का 15 माह से बकाए मानदेय का भुगतान कराने की मांग

लोहरदगाएक दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • मानदेय नहीं मिलने के कारण शिक्षकों के समक्ष भुखमरी की नौबत
  • अधिकांश पारा शिक्षकों ने परीक्षा लिखकर अपनी आहर्ता पूरी कर ली है
Advertisement
Advertisement

लोहरदगा जिला के सामाजिक कार्यकर्ता आलोक कुमार साहू ने झारखंड के मुख्यमंत्री को ट्वीट कर झारखंड में लगभग 3000 एनसी डीएलएड प्रशिक्षित पारा शिक्षकों का विगत 15 माह से बकाए मानदेय का भुगतान शीघ्र कराने की मांग की है। साहू ने कहा कि एनसीडीएलएड प्रशिक्षित पारा शिक्षक को 15 माह से मानदेय नहीं मिलने के कारण ये सब आर्थिक तंगहाली के शिकार हो गए हैं। उनकी हालत दयनीय हो गई है। भुखमरी की हालत में पहुंच गए पारा शिक्षक मानसिक तनाव ग्रस्त होकर परिवार के जीविकोपार्जन नहीं कर पा रहे हैं। झारखंड मुक्ति मोर्चा ने विधानसभा चुनाव में पारा शिक्षकों की समस्याओं का निदान करने की बात कही थी जिसके तहत विधानसभा चुनाव में पारा शिक्षकों ने यूपीए गठबंधन को पूर्ण समर्थन दिया था।

साहू ने कहा कि पूर्व रघुवर सरकार द्वारा एनसी पारा शिक्षकों का मानदेय बंद कर विद्यालय से हटाए जाने के दिए गए आदेश का पालन करते हुए हेमंत सरकार ने भी 15 महीनों से मानदेय रोक रखा है।उल्लेखनीय है कि एनसीडीएल एड पारा शिक्षकों ने डीएलएड की परीक्षा पास कर ली है मगर 45 और 50प्रतिशत की आहर्ता नहीं रखने के कारण उनके मार्कशीट पर एनसी अंकित कर दिया गया है। लेकिन अब लगभग अधिकांश पारा शिक्षकों परीक्षा लिखकर अपनी आहर्ता पूरी कर लिया है।एनआईओएस द्वारा इंटर के इंप्रूवमेंट वाले वेब पोर्टल को बंद कर दिया गया है जिस कारण एनसी क्लीयरेंस का सर्टिफिकेट शिक्षकों को नहीं मिल पाया है। बावजूद सरकार इस मामले में अपने स्तर पर कोई सुनवाई नहीं कर रही है। इस कारण उनके वेतन का भुगतान नहीं किया जा रहा है। मुख्यमंत्री को त्वरित कार्रवाई करते हुए पारा शिक्षकों का लंबित 15 माह का मानदेय का भुगतान करवा देना चाहिए।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज रिश्तेदारों या पड़ोसियों के साथ किसी गंभीर विषय पर चर्चा होगी। आपके द्वारा रखा गया मजबूत पक्ष आपके मान-सम्मान में वृद्धि करेगा। कहीं फंसा हुआ पैसा भी आज मिलने की संभावना है। इसलिए उसे वसूल...

और पढ़ें

Advertisement