निरीक्षण / कोरोना के संदिग्ध और सामान्य मरीज को एक साथ रख रहा घाघरा प्रखंड प्रशासन, जांच में हुआ खुलासा

X

  • डीडीसी और एलआरडीसी ने की जांच, घाघरा प्रखंड में कोविड19 के गाइडलाइन का अनुपालन नहीं

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 08:11 AM IST

गुमला. डीडीसी हरि कुमार केसरी और एलआरडीसी सुषमा नीलम सोरेंग ने घाघरा प्रखंड में प्रवासी मजदूरों के लिए बनाए गए क्वारेंटाइन सेंटर के निरीक्षण में खुलासा किया है कि प्रखंड प्रशासन उन केंद्रों पर कोविड-19 के गाइडलाइन का अनुपालन नहीं करा रहा है। दोनों अधिकारियों ने उपायुक्त को सौंपी रिपोर्ट में यह भी कहा है कि प्रखंड प्रखंड प्रशासन एवं पदाधिकारियों के बीच कोविड-19 के गाइडलाइन का अनुपालन को लेकर कोई आपसी समन्वय नहीं है। ऐसे में घाघरा के प्रखंड विकास पदाधिकारी और अंचलाधिकारी कोविड-19 के मार्ग निर्देशन का अनुपालन कराने में अपने दायित्व का निर्वहन नहीं कर रहे हैं। उन्होंने बेला गड़ा पंचायत स्थित क्वारेंटाइन सेंटर एसएस हाई स्कूल घाघरा में संचालित क्वारेंटाइन सेंटर आदि का निरीक्षण कर बताया कि वहां कोरोना संदिग्ध प्रवासी मजदूर जिनका कोरोना जांच के लिए सैंपल लिया गया है। उन्हें सामान्य प्रवासी मजदूरों को एक साथ ही रखा जा रहा है। वहां सैनिटाइजर का भी नियमित उपयोग नहीं किया जा रहा है। 
  जबकि इसके लिए पूर्व में ही निर्देश दिया जा चुका है । क्वारेंटाइन सेंटर में सैनिटाइजर के नियमित उपयोग नहीं किए जाने तथा सामान्य और संदिग्ध प्रवासी मजदूरों को एक साथ रखे जाने के बारे में वीडियो से पूछे जाने पर उन्होंने संतोषजनक जवाब नहीं दिया । ऐसे में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी से इनकार नहीं किया जा सकता है। निरीक्षण के क्रम में अधिकारियों ने यह भी खुलासा किया कि बेला गड़ा पंचायत स्थित क्वॉरेंटाइन सेंटर में शौचालय है लेकिन उस में ताला लगा रहता है अधिकारियों के निरीक्षण के पूर्व ताला को खोला गया था। जिससे यह स्पष्ट है कि वहां रह रहे प्रवासी मजदूर खुले में शौच का उपयोग करते हैं जिससे कोरोनावायरस के संक्रमण फैलने की आशंका है। दोनों अधिकारियों ने प्रखंड के राजकीय उत्क्रमित मध्य विद्यालय कुगांव का भी निरीक्षण किया। जहां संदिग्ध एवं प्रवासी मजदूरों को एक साथ बरामदे में रखा गया है। उल्लेखनीय है कि 1 दिन पूर्व ही उपायुक्त के निर्देश पर जिला स्थापना उप समाहर्ता विद्या भूषण कुमार ने घाघरा प्रखंड के बेलागड़ा पंचायत स्थित क्वारेंटाइन सेंटर में निरीक्षण किया था। 
 वहां अव्यवस्था को लेकर सवाल उठाते हुए जिला स्थापना उप समाहर्ता के रिपोर्ट के आधार पर उपायुक्त ने बीडीओ विष्णु देव कच्छप और पंचायत सेवक से स्पष्टीकरण की मांग की गई थी तथा कोविड-19 के निर्देशों का पालन नहीं करने के आरोप में अंचलाधिकारी को दोबारा स्पष्टीकरण डीसी के द्वारा पूछा गया है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना