ग्रामीणों से मुलाकात:गांव के आखिरी व्यक्ति तक विकास कार्यों काे पहुंचाना लक्ष्य : डॉ उरांव

लोहरदगा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अखड़ा का फीता काटकर उद्घाटन करते मंत्री सह विधायक व अन्य। - Dainik Bhaskar
अखड़ा का फीता काटकर उद्घाटन करते मंत्री सह विधायक व अन्य।
  • मंत्री कई गांवों में ग्रामीणों से सुनी समस्याएं, अखरा का किया उद्घाटन

जिले में शनिवार को झारखंड सरकार के मंत्री डॉ रामेश्वर उरांव आम लोग और पार्टी कार्यकर्ताओं से मिलने पहुंचे। इस क्रम में वे सदर प्रखंड के ग्राम क्रमशः ईटा, भुजनिया, बेजवाली, तिगरा में पहुंच कर ग्रामीणों से मुलाकात कर उनकी समस्याओं से रूबरू हुए।

उन्होंने अपने विधायक कोष से निर्मित अखड़ा का उद्घाटन तिगरा एवं अरकोसा पंचायत में किया। इससे पूर्व ग्रामीणों ने मंत्री के आगमन पर उनका पारंपरिक तरीके से जोरदार स्वागत किया। भारी बारिश के बावजूद भी कार्यकर्ताओं में भरपूर जोश और आनंद देखा गया और खुशी जाहिर की गई।

स्वागत के पश्चात मंत्री के समक्ष विधानसभा क्षेत्र के सैंकड़ों ग्रामीणों ने अपनी समस्याएं रखी। साथ ही अपनी-अपनी समस्याओं को लेकर लिखित आवेदन भी सौंपा गया। जिसमें पुल निर्माण, बिजली राजस्व विभाग, राशन कार्ड, विधवा पेंशन, वृद्धा पेंशन, पेयजलापूर्ति, जेएसएलपीएस, सड़क, आंगनबाड़ी, आवास योजना, कृषि एवं अन्य विभागों के कई गंभीर मामलों को रखा गया।

मंत्री ने लोगों की समस्याएं सुनने के बाद कुछ समस्या का निष्पादन तुरंत फोन लगाकर किया। इसके साथ सभी आवेदनों को सूचीबद्ध कर संबंधित विभाग को अग्रसित करते हुए पदाधिकारियों को अविलंब समस्याओं के समाधान करने का निर्देश दिया। मौके पर मुख्य रूप से कार्यवाहक जिला अध्यक्ष सुखैर भगत, राज्य सभा सांसद प्रतिनिधि अशोक यादव, विधायक प्रतिनिधि निशीथ जायसवाल, हाजी शकील अहमद, डॉ अजय शाहदेव, हाजी सिकंदर अंसारी, ठाकुर प्रसाद, सत्यदेव भगत, विशाल डुंगडुंग, फहद खान, दीपक महतो, रफीक अंसारी, असलम अंसारी, कृष्णा उरांव, अरविंद उरांव, श्रवण पन्ना, विनोद पाहन, बीगा पाहन, जुगल भगत, तारिक अनवर, सल्लू उरांव, अब्दुल अंसारी, वीरेंद्र उरांव, सोमनाथ भगत, बाबर अंसारी, रामलखन उरांव, वजीर अहमद, वासुदेव उरांव, बिहारी पाहन सहित काफी संख्या में ग्रामीण मौजूद थे।

10 में धोती व साड़ी उपलब्ध कराएंगे : मंत्री
मंत्री ने कहा बीते दिनों पूरा विश्व और सारा देश कोरोना महामारी की चपेट में था। जिसके कारण हमें अपने क्षेत्रों में पहुंचने में कठिनाइयां हुई। परंतु स्थिति सामान्य होते ही मैं अपने क्षेत्रों में पहुंच कर गांव के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचकर उनके सुख-दुख को समझने का प्रयास कर रहा हूं। ग्राम एवं शहरी क्षेत्रों की समस्याओं का समाधान कर रहा हूं। मंत्री ने कहा कि हमारी सरकार अब तक 15 लाख राशन कार्ड मुहैया करा चुकी है।

365000 वृद्ध जनों को पेंशन मुहैया करा रही है। इसके साथ ही विद्यालय में पोषण स्तर में सुधार के लिए मीड डे मील में बच्चों के लिए सुधार के प्रयास किए जा रहे हैं। जिससे कुपोषण से पार पाया जा सकेगा। इसके साथ हमारी सरकार सभी विद्यार्थी एसटी, एससी, ओबीसी, जनरल सभी के लिए साइकिल उपलब्ध कराने का प्रयास करेगी और ग्रामीण क्षेत्रों में ग्रीन कार्ड एवं ₹10 में धोती एवं साड़ी उपलब्ध कराएंगे।

खबरें और भी हैं...