पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

ईद:लोहरदगा में मुस्लिम धर्मावलंबियों ने अकीदत के साथ घरों पर ही अदा की बकरीद की नमाज

लोहरदगा10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • इमाम मौलाना शमीम अहमद रिजवी बोले- मुल्क की तरक्की के लिए नेकी की राह पर चलें

जिले भर में ईद उल अजहा (बकरीद) का त्योहार शनिवार को मनाया गया। वैश्विक महामारी के बीच मुस्लिम धर्मावलंबियों ने अकीदत के साथ अपने-अपने घरों पर बकरीद की नमाज अदा की। कोरोना के कारण इस वर्ष ईदगाह में नमाज नहीं पढ़ी गई। वहीं विभिन्न मस्जिदों में पांच लोगों की उपस्थिति में नमाज पढ़ी गई। वहीं अधिकतर लोगों ने अपने अपने घरों पर ही रहकर नमाज अदा की और परिजनों के साथ कुर्बानी का पर्व बकरीद मनाया। अंजुमन इस्लामिया द्वारा जिला प्रसाशन के दिशा निर्देश पर तय समय के अनुसार ईद उल अजहा की नमाज अदा की गई। इमामत संबंधित मस्जिदों के इमामों ने कराई। परंतु इस बार लोग एक दूसरे को सोशल मीडिया व फोन के माध्यम से मुबारकबाद दी। कोरोना के कारण लोगों ने एक दूसरे को गले मिलकर बधाई देने से परहेज किया।

इसके साथ ही कुर्बानी की रस्म भी अदा हुई। जामा मस्जिद के इमाम मौलाना शमीम अहमद रिजवी ने कहा कि मुल्क की तरक्की के लिए सभी नेकी की राह पर चलें। इस कोरोना वायरस जैसे महामारी से लोगों के बचाव के लिए दुआ भी मांगी गई। अंजुमन इस्लामिया के एडहॉक कमेटी के पदाधिकारी हाजी शकील ने कहा कि जिले में शांतिपूर्ण ढंग से अमन-चैन के साथ बकरीद का पर्व संपन्न हुआ है, जिसके लिए सभी कॉम व जिला प्रशासन के लोगों का आभारी है। इधर त्यौहार को लेकर विभिन्न चौक चौराहों पर पुलिस जवान तैनात किए गए थे। हालांकि कंटेनमेंट जोन के अंदर रहने वाले मुस्लिम समाज के लोगों को परेशानियों का सामना भी करना पड़ा।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- धार्मिक संस्थाओं में सेवा संबंधी कार्यों में आपका महत्वपूर्ण योगदान रहेगा। कहीं से मन मुताबिक पेमेंट आने से राहत महसूस होगी। सामाजिक दायरा बढ़ेगा और कई प्रकार की गतिविधियों में आज व्यस्तता बनी...

और पढ़ें