पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आयोग की रिपोर्ट:एसडीजी की रिपोर्ट में विकास के पैमाने पर झारखंड काे 27वां स्थान

गुमला9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

एसडीजी सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल की रिपोर्ट के आधार पर झारखंड राज्य को 27 वां स्थान मिला। यह झारखंड की हेमंत सरकार की गठबंधन सरकार की बड़ी उपलब्धि है। वर्ष 2020 में एसडीजी के 16 बिंदुओं पर सभी राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों में किए गए कार्यों के आधार पर नीति आयोग ने परिणाम निकाला है। झारखंड में 36 पॉइंट 20% बच्चे चिकनापन के शिकार हैं। जबकि 42% बच्चों का वजन कम है। 62% महिलाएं एनीमिया की शिकार है। आयोग की रिपोर्ट के अनुसार वर्ष 2020 की अवधि में गरीबी मिटाने भूख कुपोषण जैसी लक्ष्यों में देश के अन्य राज्यों की तुलना में पांचवें पायदान पर रहा।

हालांकि स्वास्थ्य स्वच्छता और असमानता कम करने जैसे लक्षणों में बेहतर काम हुआ। इन बिंदुओं में झारखंड अग्रणी राज्य में शामिल रहा। लेकिन फिर भी राष्ट्रीय औसत से पीछे रहा है। विकास के सभी क्षेत्रों पर नजर दौड़ाने से भी झारखंड अत्यंत पिछड़ा राज्य इस सरकार के कार्यकाल में बन गया है। भारतीय जनता पार्टी अनुसूचित जनजाति मोर्चा गुमला जिला के जिला अध्यक्ष देवेंद्र लाल उरांव ने बयान जारी कर कहा की इस प्रकार इन तमाम 16 बिंदुओं पर नजर डालने से नीति आयोग की रिपोर्ट से यह स्पष्ट होता है कि झारखंड राज्य पतन की ओर बढ़ रही है। यदि ऐसे ही कमजोर मुख्यमंत्री और गठबंधन की सरकार रही, तो 5 सालों में झारखंड बुरी तरह बर्बाद हो जाएगा।

खबरें और भी हैं...