पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ईद उल अजहा:रब से कोरोना महामारी से निजात दिलाने और जानमाल की हिफाजत की दरख्वास्त

गुमला7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
एक-दूसरे को मुबारकबाद देते बच्चे। - Dainik Bhaskar
एक-दूसरे को मुबारकबाद देते बच्चे।
  • अकीदत व सादगी से मना ईद उल अजहा, ईदगाह में नमाज अदा नहीं हुई

मुस्लिम धर्मावलंबियों का महत्वपूर्ण त्योहार ईद उल अजहा (बकरीद) का पर्व बुधवार को जिला मुख्यालय समेत प्रखंडों में अकीदत व सादगी पूर्ण माहौल में मनाया गया। कोरोना के कारण पर्व को लेकर आयोजित होने वाला लगभग सभी आयोजन रद्द रहे।

शहर की मस्जिदों में सरकार व जिला प्रशासन द्वारा जारी गाइडलाइन के अनुरूप नमाज अदा कर देश में अमन, चैन व खुशहाली की दुआएं मांगी। लोगों ने रब से सम्पूर्ण दुनिया को कोरोना महामारी से मुक्ति व जान माल की हिफाजत की दरख्वास्त की। दूसरे साल भी ईदगाह पूरी तरह सुनी रही।

ईदगाह के अंदर व बाहर किसी तरह का चहल पहल नही देखी गई। अधिकांश लोगों ने अहले सुबह बकरीद की नमाज के जगह अपने अपने घरों में नफिल नमाज की भी पाबंद की। नमाज के बाद लोगों ने कब्रिस्तान पहुंचकर दुनिया से रुख्सत हुए लोगों के लिए दुआएं मगफिरत मांगी।

सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखते हुए इस बार न ही गला मिलकर और न ही हाथ मिलाकर ईद का मुबारकबाद दी। लोगों ने सामाजिक दूरी का पालन करते हुए दूर से एक दूसरे को सलाम कर मुबाकरबाद पेश की। परिवार के बीच रहकर विभिन्न पकवानों का लुत्फ उठाया।

खबरें और भी हैं...