पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आत्महत्या की कोशिश:बच्चे को बगल में बैठा कर रेल ट्रैक पर लेटा था, ट्रेन से कटकर आत्महत्या की थी योजना, जवान ने बचा लिया

कामडारा6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
आत्महत्या के लिए पहुंचा व्यक्ति। - Dainik Bhaskar
आत्महत्या के लिए पहुंचा व्यक्ति।

रविवार की देर शाम पोकला रेलवे गेट फाटक के समीप एक अनहोनी को टालते हुए आरपीएफ आउट पोस्ट गोविन्दपुर रोड के जवान ने आत्महत्या के लिए रेलवे ट्रैक पर पहुंचे एक पिता के साथ बैठे मासूम को बचा लिया। यह क्षेत्र में चर्चा का विषय बन गया है। जानकारी के मुताबिक़ खूंटी जिला के तोरपा थाना अंतर्गत गांव कुल्डा सेरेंगटोली के एक व्यक्ति अमित तोपनो (30) अपनी पत्नी रेश्मा होरो व अपनी तीन वर्षीय मासूम रेनी सेती तोपनो के साथ पोकला बाजार सब्जियां खरीदने पहुंचे थे।

इसी बीच किसी बात को लेकर बाजार में पति-पत्नी के बीच विवाद उत्पन्न हो गया और पत्नी बाजार से पति व अपनी मासूम को छोड़ कर कहीं चली गई। इससे पति आक्रोश में आकर अपनी मासूम को लेकर आत्महत्या करने के इरादे से पोकला रेलवे गेट फाटक और रेलवे स्टेशन के बीच आधा किमी की दूरी पर एलसी एचबी गेट न० 36 किलोमीटर न० 487/ 14 -15 के समीप रेलवे ट्रैक पर जाकर सो गया और बच्चे को बगल में बैठकर ट्रेन का इंतजार कर रहा था।

इसी बीच ऑन ड्यूटी आरपीएफ जवान जेआर महली को गेट कीपर से सूचना मिली कि रेलवे ट्रैक पर अनहोनी हाेने वाली है। इसके बाद आरपीएफ जवान पहुंचा और रेलवे ट्रैक से पिता व मासूम को लाया।

रेलवे ट्रैक पर बैठकर ट्रेन का इंतजार कर रहा था
आत्महत्या करने रेलवे ट्रैक पर मासूम संग पहुंचे अमित ने पत्रकारों को बताया कि वह वाल पुट्टी का काम करता है। 2014 में उसकी शादी रनिया इलाके के जिलिंगसेंगेट की रेश्मा होरो के साथ हुई है। दो बच्चे हैं। दो वर्ष से दंपती के बीच अक्सर विवाद होता है। आज भी विवाद होने पर बेटी संग आत्महत्या करने की नीयत से रेलवे ट्रैक पर बैठ ट्रेन का इंतजार कर रहा था।

खबरें और भी हैं...