महा आंदोलन:डीसी से होने वाली वार्ता के लिए प्रतिनिधिमंडल में प्रत्येक गांवों से 5-5 रैयतों का चयन किया

कटकमदागएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

प्रखंड के बानादाग साइडिंग के विरोध में महा आंदोलन के बाद जिला प्रशासन के आदेशानुसार शनिवार को टीपी 10 स्थित ग्राम सभा का आयोजन किया गया। अध्यक्षता कटकमदाग मुखिया उदय साव ने किया। ग्रामसभा में प्रभावित ग्राम बांका, कटकमदाग, कुसुम्भा व बानादाग के सैकड़ों रैयत उपस्थित हुए। इस दौरान महा आंदोलन की समीक्षा की गई। आंदोलन में बढ़-चढ़कर भाग लेने वाले रैयतों, समर्थन देने वाले प्रतिनिधियों, नेताओं को धन्यवाद दिया गया। जिला प्रशासन द्वारा 14 मांगों पर हुए समझौते को रैयतों के समक्ष विस्तार पूर्वक पढ़कर सुनाया गया। सभी मांगों पर विचार-विमर्श किया गया।

तत्पश्चात उपायुक्त के निर्देशानुसार प्रभावित चारों गांवों से 5-5 रैयतों को प्रतिनिधि मंडल में चयनित किया गया, जो आगामी 12 नवंबर को उपायुक्त कार्यालय में होने वाली वार्ता में शामिल होंगे। मुखिया उदय साव ने कहा कि जिला प्रशासन जल्द से जल्द एनटीपीसी कंपनी और उसके सहयोगियों से वार्ता कराएं। समझौते में सभी 14 मांगों पर कार्रवाई करने की मांग की गई। इसमें सोलर लाइट की व्यवस्था, सिंचाई की व्यवस्था, रोजगार की व्यवस्था, प्रदूषण से मुक्ति, पौधरोपण आदि कार्य शामिल है। ग्राम सभा में प्रमोद कुमार गुप्ता, अजय कुमार, मिथुन कुमार, संदीप कुमार, राजेश कुमार, राजेश राज, परमेश्वर साव, सुमित्रा देवी, आशा देवी, शांति देवी, अरुण यादव, रंजीत यादव, पूर्णिमा देवी, सुगीया देवी, विशाल कुमार आदि मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...